Nainital-Haldwani News

अब यहां नहीं लगेगी वैक्सीन, टीका लगवाने से पहले डालें हल्द्वानी के नए केंद्रों पर नज़र


हल्द्वानी: टीकाकरण अभियान तेज़ी से चल रहा है। इसमें प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग की भागीदारी सबसे महत्वपूर्ण मानी जा रही है। टीकाकरण से जुड़ी एक नई अपडेट भी सामने आई है। दरअसल अब हल्द्वानी में टीकाकरण केंद्रों में तब्दीली की गई है। जैसे अब महिला अस्पताल हल्द्वानी और मोटाहल्दू पीएचसी में शुक्रवार से टीकाकरण नहीं होगा। इसकी जगह नए केंद्र को चिन्हित किया गया है। टीकाकरण कराने जा रहे हैं तो एक बार केंद्रों पर नज़र ज़रूर डाल लें।

कोरोना महामारी को रोकने के लिए वैक्सीन एक रामबाण मानी जा रही थी। ऐसा साबित भी हुआ है। बता दें कि दो वैक्सीन लगवाने के बाद बहुत ही कम ऐसे केस हैं जहां कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। लिहाजा टीकाकरण अभियान पर सरकार व प्रशासन का जोर केवल इसलिए है ताकि हर कोई वैक्सीन लगवा कर सुरक्षित हो सके। शुरुआत से अब तक अलग-अलग चरणों में वैक्सीनेशन अभियान चलाया गया है। धीरे धीरे लोगों में जागरुकता बढ़ती ही गई है। इस समय बाकी जगहों की तरह ही हल्द्वानी में भी एक तो 45 प्लस उम्र वालों के टीके लग रहे हैं तो वहीं अब यहां 18 से ज़्यादा उम्र वालों के भी टीके लगने शुरू हो गए हैं। इस हेतु व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिए प्रशासन द्वारा प्रबंधों में कुछ बदलाव किए गए हैं। एसीएमओ डॉ. रश्मि पंत ने बताया कि ऊंचापुल रामलीला मैदान, हरगोविंद सुयाल सरस्वती विद्या मंदिर और खालसा इंटर कॉलेज को नया टीकाकरण केंद्र बनाया गया है।

जानकारी के अनुसार ऊंचापुल में 45 वर्ष या अधिक उम्र के लोगों को टीकाकरण होगा। जबकि खालसा इंटर कॉलेज और हरगोविंद सुयाल सरस्वती विद्या मंदिर में 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण होगा। इसके अलावा एमबीपीजी कॉलेज में दो केंद्र टीकाकरण के लिए चलते रहेंगे। एसीएमओ पंत ने बताया कि जिले में गुरुवार को 37 केंद्रों पर 4221 को कोविड का टीका लगाया गया।

एमबीपीजी कॉलेज में 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के 960 को टीकाकरण किया गया। जिसमें 555 पुरुष और 405 महिलाएं शामिल रहीं। इसके साथ ही 45 वर्ष और अधिक उम्र के 547 को टीका लगाया गया। जिसमें 390 पुरुष और 157 महिलाएं शामिल रहीं। डॉ. पंत ने बताया कि 18 से 44 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों के लिए कोवैक्सीन की करीब 4800 डोज आ गई हैं। जो कि 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग के लोगों को लगाई जाएगी। कोविशील्ड खत्म होने के बाद इसका प्रयोग किया जाएगा।

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top