Pithoragarh News

पिथौरागढ़ धारचूला के संदीप ने हार नहीं मानी, लाखों की नौकरी छोड़ी और अब UPSC में मिली सफलता


Uttarakhand: Sandeep: Pithoragarh: UPSC: यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 का फाइनल रिजल्ट जारी हो गया है। इसे यूपीएससी की वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर चेक किया जा सकता है। यूपीएससी 2023 में आदित्य श्रीवास्तव ने टॉप किया है। आईएएस, आईएएफएस और आईपीएस समेत 1143 वैकेंसी के लिए 1016 अभ्यर्थियों की नियुक्ति की सिफारिश की गई है। इसमें 347 जनरल कैटेगरी के हैं। जबकि 115 इडब्लूएस, 303 ओबीसी, 165 एससी, 86 एसटी कैटेगरी के हैं। नोटिफिकेशन के अनुसार 355 अभ्यर्थियों का रिजल्ट प्रोविजनल रखा गया है।

यूपीसएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 के फाइनल मार्क्स रिजल्ट घोषित होने के 15 दिन बाद जारी किया जाएगा। यूपीसएससी सिविल सेवा परीक्षा 2023 का इंटरव्यू नौ अप्रैल तक हुआ था। इसकी शुरुआत दो जनवरी को हुई थी। इंटरव्यू के लिए मुख्य परीक्षा में पास हुए 2846 उम्मीदवारों को बुलाया गया था। सिविल सेवा परीक्षा 2023 में आईएएएस के 180, आईपीएस के 200 और आईएफएस के 37 पद थे।

हर बार की तरह इस बार भी उत्तराखंड के कई युवाओं को UPSC परीक्षा में सफलता मिली है। इसी लिस्ट में शामिल हैं पिथौरागढ़ धारचूला के रहने वाले संदीप सिंह, जिन्होंने सिविल सर्विसेज परीक्षा 2023 में 906 स्थान प्राप्त किया है। संदीप आईआईटी से पासआउट हैं। उनकी शिक्षा पर बात करें तो संदीप ने पिथौरागढ़ से हाईस्कूल की पढ़ाई और देहरादून से इंटर किया। पढ़ाई में मेधावी रहे संदीप ने जेईई परीक्षा में भी अच्छा स्कोर किया और उन्हें आईआईटी रुड़की में दाखिला मिल गया, यहां से उन्होंने  मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की।

संदीप 2016 में अमेरिका के हस्टैनविला में नासा द्वारा आयोजित “ह्यूमन एक्सप्लोरेशन रोवर चैलेंज” मे प्रतिभाग कर “Pit crew” अवार्ड जीतने वाली आईआईटी रुड़की की टीम का हिस्सा भी रहे थे। उन्हें पढ़ाई के बाद लाखों की सैलेरी वाली नौकरी मिल रही थी लेकिन उन्हें सिविल सेवा में जाना था, इस वजह से उन्होंने नौकरी नहीं की। पिछले 6 साल से संदीप दिल्ली में तैयारी कर रहे थे और अब उन्हें कामयाबी मिली है। वो दूसरी बार इंटरव्यू में बैठे थे। संदीप सिंह के पिता अरविंद सिंह कुंवर राशन की दुकान चलाते है। माता सुनीता देवी गृहणी है। संदीप पांच भाई बहनों में सबसे छोटे है। संदीप के पिता पहले व्यापारी थे लेकिन कोरोना में व्यापार बंद हो गया था।

To Top