Udham Singh Nagar News

द नैनीताल बैंक के मैनेजर को डराने के लिए महिला ने भेजे हमलावर, बाद में निकली मालकिन


Ad
Ad

ऊधमसिंह नगर: द नैनीताल बैंक के बरहैनी शाखा प्रबंधक पर हुए फायरिंग कांड के पीछे एक महिला शामिल थी। जिले की पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है। महिला समेत दो अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने उनके पास से एक पिस्टल और वारदात को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल बाइक भी बरामद कर ली है। पुलिस ने तीनों के खिलाफ केस दर्ज कर जेल भेज दिया।

Ad
Ad

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ टीसी ने खुलासे के वक्त बताया कि घटना 10 मई की है। नैनीताल बैंक शाखा बरहैनी के मैनेजर विवेक कुमार यादव ऑफिस से अपने घर जा रहे थे। रास्ते में बाइक सवाल दो लोगों ने उनके ऊपर फायरिंग कर दी। घायल बैंक मैनेजर के पिता महेश कुमार यादव ने तहरीर दी और फिर पुलिस अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

हमलावरों को पकड़ने के लिए एएसपी काशीपुर चंद्रमोहन सिंह व सीओ बाजपुर वंदना वर्मा ने चार पुलिस टीमों का गठन कर जांच शुरू कर दी गई थी। पुलिस को मुखबिर से एक अपडेट मिला कि बैंक प्रबंधक को दोबारा से धमकाने का प्रयास करने के लिए हमलावरों ने प्लान बनाया है।

इसके बाद पुलिस टीम ने भैंसिया तिराहा के पास घेराबंदी कर दोनों बाइक सवारों पकड़ा।आरोपियों की पहचान नैनीताल-बाजपुर मुख्यमार्ग स्थित यादव होटल के पीछे निवासी गुरपाल उर्फ रिंकू पुत्र तरसेम सिंह, ग्राम पहाड़पुर निवासी चरणजीत सिंह उर्फ दीपू पुत्र बलविंदर सिंह के रूप में हुई। पुलिस ने बाइक सवारों के पास से एक अवैध पिस्टल व दो जिंदा कारतूस बरामद किए।

पूछताछ में दीपू ने बताया कि वह सालों से बरहैनी निवासी नीलम आनंद के यहां काम करता है। नीलम के घर में कोई नहीं है और वह दीपू को परिवार का सदस्य मानती थी। नीलम के घर पर ही नैनीताल बैंक की शाखा का संचालन होता है। किराए को लेकर उसका मैनेजर विवेक यादव से विवाद हुआ था।

पति की मौत के बाद किराए जमा करने में परेशानी हो रही थी और नीलम चाहती थी कि पैसे उसके खाते में लेकिन बैंक कागजगी कार्यवाही की बात कर रहा था। नीलम की बात बैंक मैनेजर नहीं मान रहा था तो उसने दीपू के साथ मिलकर बैंक मैनेजर को डराने-धमकाने का प्लान बनाया। पुलिस ने दीपू के बयान के बाद नीलम को भी गिरफ्तार किया और कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top