Ad
Sports News

उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन:सचिव समेत सात की गिरफ्तारी के लिए एसओजी गठित

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: क्रिकेटर आर्य सेठी की पिटाई और दस लाख रुपए मांगने के केस में क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों को गिरफ्तारी की तैयारी देहरादून पुलिस ने कर दी है। एसएसपी जनमेंजय खंडूरी ने स्पेशल आपरेशन ग्रुप (एसओजी) को मोर्चे पर लगा दिया है। पुलिस का कहना है कि नोटिस भेजने के बाद भी आरोपित बयान दर्ज कराने नहीं पहुंचे और उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

क्रिकेट एसोसिएशन आफ उत्तराखंड (सीएयू) के सचिव महिम वर्मा, प्रवक्ता संजय गुसाईं, सीनियर पुरुष क्रिकेट टीम के मैनेजर नवनीत मिश्र, कोच मनीष झा, वीडियो एनालिस्ट पीयूष रघुवंशी और सीएयू में कार्यरत सत्यम वर्मा व पारुल पर वसंत विहार थाने में 20 जून को मुकदमा दर्ज किया गया है। क्रिकेटर आर्य सेठी के पिता वीरेंद्र सेठी ने सीएयू के खिलाफ गंभीर आरोप भी लगाए हैं। इसके अलावा उन्होंने सचिव महिम वर्मा पर मामले को सुलझाने के लिए दस लाख रुपए डिमांड करने का भी आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें 👉  देवभूमि में गरजा सचिन तेंदुलकर का बल्ला, हल्द्वानी के फैंस ने सुनाई आंखों देखी...

बता दें कि आर्य सेठी उत्तराखंड की सीनियर क्रिकेट टीम के सदस्य हैं। ये प्रकरण दिसंबर माह में विजय हजारे ट्रॉफा के दौरान सामने आया था। क्रिकेटर के पिता वीरेंद्र सेठी ने पुलिस को बताया कि 11 दिसंबर 2021 को अभ्यास के दौरान टीम के कोच मनीष झा ने आर्य की पिटाई की।वीरेंद्र का आरोप है कि इसके बाद तीनों ने आर्य को एक कमरे में बुलाया और जान से मारने की धमकी दी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: घरों से बाहर रहकर काम करने वाली बहन-बेटियों की सुरक्षा के लिए बनेगी SOP

एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी ने कहा कि मुकदमा दर्ज होने के बाद से सभी आरोपित गायब चल रहे हैं। नोटिस के बाद भी वो बयान देने नहीं पहुंचे हैं। उनकी लोकेशन का भी पता नहीं चल रहा। आरोपितों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के लिए टीम गठित की गई है।

Join-WhatsApp-Group
To Top