Sports News

शाबाश रवि बिश्नोई, सिर्फ 21 मैच खेले हैं और 23 साल की उम्र में बने दुनिया के नंबर एक टी-20 गेंदबाज


Ravi Bishnoi: भारत के लेग स्पिनर रवि बिश्नोई आईसीसी टी-20 रैंकिंग में नंबर एक गेंदबाज बन गए हैं। केवल 21 मैच खेलने वाले रवि ने साल 2022 में बारत के लिए टी-20 में डेब्यू किया था। हाल में संपन्न हुई ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज़ में वो प्लेयर ऑफ द सीरीज रहे थे। टीम इंडिया के रवि बिश्नोई (699 रेटिंग अंक) ने अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद खान (692 रेटिंग अंक) को पीछे छोड़ते हुए पहली बार ये बड़ा मुकाम हासिल किया है। रवि बिश्नोई अपनी शानदार गेंदबाजी के चलते चर्चाओं में है और माना जा रहा है कि वो टी-20 विश्वकप के लिए वेस्टइंडीज जाने वाली टीम का हिस्सा होंगे।

राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले लेग स्पिनर रवि बिश्नोई का जन्म 5 सितम्बर 2000 गांव बिरामी में हुआ था। रवि बिश्नोई के पिता मांगीलाल बिश्नोई शिक्षक हैं। रवि बिश्नोई बचपन में खेतों में खूब बॉलिंग प्रैक्टिस किया करते थे। रवि बिश्नोई ने अपने करियर की शुरुआत एक तेज गेंदबाज के रूप में की थी, लेकिन इसके बाद कोच की सलाह ने उनकी जिंदगी बदल दी। आपने भी देखा होगा कि रवि बिश्नोई की बॉलिंग में तेज गेंदबाज की झलक देखने को मिलती है। रवि बिश्नोई का लंबा गेंदबाजी रन अप तेज गेंदबाज जैसा ही है।

रवि बिश्नोई ने भारत के लिए 21 टी-20 मुकाबलों में 34 विकेट झटके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 में उन्होंने 5 मुकाबलों में 9 विकेट झटके। उन्होंने पावरप्ले में भी शानदार गेंदबाजी की और भारत को सीरीज़ जीताने में अहम रोल अदा किया। रवि ने आईपीएल में पंजाब फ्रेंचाइजी के लिए डेब्यू साल 2020 सीजन में किया था। उनका पहला शिकार ऋषभ पंत बने थे। लगातार अच्छे प्रदर्शन के चलते रवि को भारतीय टीम में जगह मिली और अब वो मौके को भुना रहे हैं।

To Top