Nainital-Haldwani News

नैनीताल: पहले छात्रा से की अश्लील बातें फिर पिटाई के डर से बाथरूम में छिप गया शिक्षक


नैनीताल: पहले छात्रा से की अश्लील बातें फिर पिटाई के डर से बाथरूम में छिप गया शिक्षक
Ad
Ad

रामनगर: शिक्षक यानी गुरुओं को प्राचीन काल से ही समाज में विशेष दर्जा प्राप्त है। माता-पिता और गुरुओं को समाज में एक ही तरह से पूजा जाता है। मगर कुछ शिक्षक (Teachers) छात्रों के साथ अपने रिश्ते पर कलंक लगाने से नहीं चूकते। रामनगर में एक शिक्षक ने स्कूल की छात्रा से अश्लील (Obscene) बातें की। जब बेटी ने घऱ पर बताया तो परिवार के आने से पहले ही वह बाथरूम में छिप गया।

Ad
Ad

रामनगर (Ramnagar) स्थित एक विद्यालय की छात्रा ने ने अपने परिजनों के बताया कि उसके शिक्षक ने उसके साथ अश्लील बातें की हैं। अब शिक्षक को इस बात की भनक थी कि सभी को पता लग जाएगा। इसलिए वह घटना के बाद से ही अवकाश (Holiday) पर चला गया था। इधर, बीते दिनों जब शिक्षक स्कूल पहुंचा तो बच्ची के परिजन भी स्कूल आ गए।

छात्रा के परिजनों ने विद्यालय के प्रधानाचार्य को इस बारे में जानकारी दी। दूसरी तरफ शिक्षक ने छात्रा के चाचा के खिलाफ झूठे आरोप में फंसाने, धमकी और गालीगलौज करने की तहरीर थाने में दी। सोमवार को जब छात्रा के चाचा और एबीवीपी कार्यकर्ता स्कूल गए तो शिक्षक ने खुद को स्कूल के ही बाथरूम (Bathroom) में बंद कर लिया।

यह भी पढ़ें 👉  बेतालघाट के च्यूनी गांव की योगिता सती बनेगी वायु सेना में फ्लाइंग ऑफिसर

सूचना मिलने पर एसआई मनोज अधिकारी, राजेंद्र सिंह नेगी, एचसीपी मोहन चंद्र मौके पर पहुंच गए। पुलिस (Police) के पहुंचने के बाद भी वह बाहर निकलने को तैयार नहीं हुआ। शिक्षकों और प्रधानाचार्य (Principal) ने भी मारपीट नहीं होने का भरोसा दिया। वह फिर भी नहीं माना। फिर एसएसआई (SSI) मुनव्वर हुसैन ने फायर ब्रिगेड की टीम को बुलाकर बाथरूम का गेट काटने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी से चलने वाली रोडवेज बसों में गाना बजाना बंद

तब जाकर करीब दो घंटे बाद बाद शिक्षक बाहर आने को तैयार हुआ। एसएसआई ने जानकारी दी और बताया कि आरोपी शिक्षक को मंगलवार (Tuesday) को कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं प्रधानाचार्य का ये कहना है कि कॉलेज प्रशान शिक्षक पर लगे आरोपों की जांच कर रहा है। बहरहाल पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज कर शिक्षक को हिरासत में ले लिया।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top