Election Talks

उत्तराखंड में इस बार सबसे कम उम्मीदवार लड़ रहे हैं विधानसभा चुनाव, काफी खास है पैटर्न


Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: प्रदेश की 70 विधानसभा सीटों पर आज एक ही चरण में मतदान होना है। सभी विधानसभा क्षेत्रों में पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। जिसमें लोग सुबह से ही पहुंचकर अपना किमती मत दे रहे हैं। बता दें कि इस बार विधानसभा चुनावों में एक चीज काफी चौंकाने वाली है। आंकड़े बताते हैं कि पिछले 4 बार के चुनावों के मुकाबले इस बार उम्मीदवारों की संख्या सबसे कम है। खास पैटर्न ये भी है कि हर चुनाव में उम्मीदवारों की संख्या घटी है।

दरअसल साल 2002 में उत्तराखंड राज्य गठन के बाद पहले विधानसभा चुनाव आयोजित किए गए थे। जिसमें कांग्रेस की सरकार बनी थी। तब 70 सीटों पर 927 लोगों ने चुनाव लड़ा था। इसके बाद साल 2007 में भाजपा को जीत मिली। इस चुनाव में 806 लोग अपनी किस्मत आजमा रहे थे। साल 2012 में निर्दलीयों के दम पर कांग्रेस ने अपनी सरकार बनाई थी। तब 848 प्रत्याशी मैदान पर थे। साल 2017 में यह संख्या 637 थी। जबकि सरकार भाजपा ने बनाई थी।

लेकिन इस बार इस संख्या में खासा गिरावट आई है। इस बार 17 विधानसभा सीटों पर कुल 632 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। हालांकि इस बार आम आदमी पार्टी की भी प्रदेश में एंट्री हुई है। गौरतलब है मतदान प्रक्रिया शुरू होते ही मैदान से लेकर पहाड़ में मतदाताओं की लाइन नजर आने लगी। आज मतदान के बाद सभी प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी। इसके नतीजे 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे

Join-WhatsApp-Group
To Top