Uttarakhand News

उत्तराखंड में टूटा साल 2016 का रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने दिया बड़ा अपडेट

Uttarakhand weather report:- उत्तराखंड राज्य में शुष्क मौसम अब भी जारी है। राज्य में पश्चिमी विक्षोभ की कम सक्रियता के कारण बीते दो महीने में वर्षा और बर्फबारी लगभग ना के बराबर ही हुई है। इस के कारण प्रदेश भर में मौसम शुष्क और तापमान में उतार-चढ़ाव बना हुआ है। अगर थी हाल रहा तो वातावरण और भूमि में नमी कम होने के कारण गर्मियों में स्थिति और विकट हो सकती है।

फिलहाल राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ की आंशिक सक्रियता के कारण आज चोटियों पर हिमपात के आसार बन रहे हैं। हालांकि, मैदानी क्षेत्रों में मौसम शुष्क बना रह सकता है। हरिद्वार और ऊधम सिंह नगर में घने कोहरे को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है।

अगले कुछ दिन तापमान सामान्य के आसपास बना रह सकता है। प्रदेश की राजधानी देहरादून में अधिकतम तापमान 22.6 है और न्यूनतम 6.4 रिकॉर्ड किया गया है। वही उधम सिंह नगर में अधिकतम 16.6 और न्यूनतम 8.5 तापमान दिखाई दिया गया है। इसके अलावा मुक्तेश्वर में अधिकतम तापमान 12.4 और न्यूनतम तापमान 3.5 और नई टिहरी में अधिकतम तापमान 15.3 और न्यूनतम तापमान 3.4 दर्ज किया गया है।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, शीतकाल में अब तक बेहद कम वर्षा-बर्फबारी हुई है। अगले कुछ दिनों में छिटपुट वर्षा के आसार हैं।उन्होंने बताया कि इस बार मानसून सीजन के बाद से ही पश्चिमी विक्षोभ कमजोर रहा और हिमालयी क्षेत्रों में वर्षा वाले बादल विकसित नहीं हो सके। इससे तापमान में भी लगातार उतार-चढ़ाव देखने को मिला और मौसम सामान्य से भी अधिक शुष्क बना रहा। इसका फसल से लेकर स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव देखने को मिल सकता है।

वर्ष 2016 के बाद सबसे शुष्क शीतकाल

इस बार अभी तक सामान्य से 80 प्रतिशत कम वर्षा हुई है। साथ ही चोटियों पर हिमपात भी पिछले वर्षों की अपेक्षा बहुत कम हुई है। वैज्ञानिकों की माने तो ऐसी स्थिति, इससे पहले वर्ष 2016 में बनी थी, जब प्रदेश में सामान्य से 90 प्रतिशत कम वर्षा दर्ज की गई थी।इसी प्रकार के हालात रहे तो जनवरी भी सूखा रह सकता है।

To Top
Ad