Rudraprayag News

रुद्रप्रयाग के जुड़वां भाई-बहन ने मेरिट में बनाई जगह, भाई को 97 और बहन को मिले 95 प्रतिशत अंक


Uttarakhand Board Result: Twins Brother-Sister Success: Rudraprayag Success Story:

उत्तराखंड बोर्ड 2024 परीक्षा परिणामों में इस वर्ष की सफलता प्रतिशत 82.63 रहा। इस वर्ष भी छात्राओं ने छात्रों के मुकाबले अधिक सफलता प्राप्त की है। इसी बीच रूद्रप्रयाग से आ रही जुड़वाँ भाई-बहन की सफलता की खबर सबका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कर रही है। बता दें कि इस वर्ष उत्तराखंड बोर्ड में 78.19% छात्रों को तो 85.96% छात्राओं को सफलता प्राप्त हुई है। उत्तराखंड के छात्र-छात्राओं के सफलता प्रतिशत में तो अंतर देखा जा सकता है लेकिन यह अंतर अंशुल नेगी और उनकी बहन अंशिका नेगी के परिणामों में नहीं दिखता।

माता-पिता दोनों करते हैं नौकरी:

मूल रूप से क्यूडी खडपतियाखाल के निवासी हैं और वर्तमान में गंगानगर में रहने वाले अंशुल नेगी को 12वीं में 97% वहीं अंशिका को 12वीं में 95% अंक प्राप्त हुए हैं। अंशुल और अंशिका दोनों ही अगस्त्य पब्लिक इंटर कॉलेज जवाहर नगर के विद्यार्थी हैं। अपने दोनों बच्चों की सफलता से पिता भरत सिंह नेगी और माता शारदा देवी बहुत खुश हैं। बता दें कि भारत सिंह सरकारी सेवा में लिपिक के पद पर कार्यरत हैं और माता उनके ही विद्यालय में शिक्षिका हैं। दोनों ही बच्चे अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता से मिले प्रोत्साहन और सभी गुरुजनों के मार्गदर्शन को देते हैं।

एक वैज्ञानिक तो दूसरा बनना चाहता है डॉक्टर:

अंशुल और अंशिका की माता शारदा देवी बताती हैं की उनके दोनों ही बच्चों को बचपन से ही पढ़ाई में ख़ास रूचि रही है। पढ़ाई के अलावा उन्होंने भविष्य में जनसेवा करने का भी निर्णय लिया है। शारदा देवी बताती हैं कि उनके बेटे अंशुल ने इस वर्ष JEE मेंस की परीक्षा भी उत्तीर्ण की है। अंशुल आगे चलकर एक सफल वैज्ञानिक बनना चाहता है। वहीं अंशिका का सपना भविष्य में डॉक्टर बनने का है। अंशुल और अंशिका के पिता ने अपने बच्चों की सफलता के लिए विद्यालय प्रबंधन और सभी शिक्षकों का धन्यवाद किया है। जब एक शिक्षिका सभी के बच्चों को जीवन में सफलता प्राप्त करने की शिक्षा देती हो और उनके ही बच्चे सफलता प्राप्त कर के सभी को प्रेरणा दें, तब उस माँ के सौभाग्य की कल्पना शायद ही की जा सकती है।

To Top