Uttarakhand News

सावधान रहें, भारी बारिश से उत्तराखंड में फिर बन रहे हैं साल 2013 जैसे हालात


सावधान रहें, भारी बारिश से उत्तराखंड में फिर बन रहे हैं साल 2013 जैसे हालात
Ad
Ad

देहरादून: प्रदेशभर में बारिश का कहर जारी है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान सटीक साबित हुआ है। पहाड़ी जिलों से लेकर मैदानी इलाकों में रात से ही मूसलाधार बारिश जारी है। कई जगह आवागमन में दिक्कतें हो रही हैं। पहाड़ी रास्तों पर खासकर मलबा गिरने का खतरा मंडरा रहा है। हालात कुछ कुछ 2013 जैसे भयानक बन रहे हैं।

Ad
Ad

मौसम विभाग के अलर्ट को गंभीरता से लेते हुए हर जिले में प्लान बना लिया गया था। नैनीताल जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने स्कूलों को बंद रखने समेत आपदा संबंधित अधिकारियों को निर्देशित कर दिया था। बता दें कि रातभर हुई बारिश से हल्द्वानी भवाली हाइवे पर स्थित वीरभट्टी पुल के पास भूस्खलन होने से आवागमन बाधित हो गया है।

गौरतलब है कि पहाड़ी रास्तों में भारी बारिश से नुकसान होने की आशंका अधिक रहती है। मौसम विभाग ने उत्तराखंड में सोमवार और मंगलवार को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने के आशंका जताई है। विभाग की मानें तो मजबूत पश्चिमी विक्षोभ और निम्न दबाव क्षेत्र बनने के कारण बारिश का अनुमान है। इसको लेकर रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  आपकों ATM से मिलेगा राशन, उत्तराखंड में लगाई जाएंगी आधुनिक मशीनें

बता दें कि सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। बारिश इतनी तेज और भारी मात्रा में हो रही है कि लोग डर गए हैं। गौरतलब है कि वर्ष 2013 में भी इसी तरह के हालात बने थे। तब उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्र में बारिश आपदा का कारण बनी थी। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद प्रशासन ने आपदा प्रबंधन समेत तमाम संबंधित महकमों को सतर्क कर दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  रेलवे के फैसले से उत्तराखंड की दो ट्रेनों को मिलेगा फायदा

नैनीताल जिले समेत कई जिलों के विद्यालयों में अवकाश घोषित करने के साथ ही नागरिकों से घरों में ही रहने की अपील की गई है। पर्यटकों से कहा गया है कि पहाड़ों का रुख ना करें। जहां हैं, वहीं ठहर जाएं। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक अरब सागर की ओर से सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के उत्तराखंड पहुंचने और मजबूत रूप धारण करने के कारण मौसम के तेवर तल्ख हो गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  आपकों ATM से मिलेगा राशन, उत्तराखंड में लगाई जाएंगी आधुनिक मशीनें

उन्होंने बताया कि सोमवार तड़के से मंगलवार शाम तक भारी बारिश का क्रम रह सकता है। कुमाऊं क्षेत्र में ज्यादा असर होने की बात भी उन्होंने कही है। बता दें कि प्रदेश में वन विभाग ने भी ट्रैकिंग रूट बंद कर दिए हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री पुष्कर धामी से फोन पर बात की और राज्य में हो रही भारी बारिश से बचाव की तैयारियों का अपडेट लिया। साथ ही हरसंभव मदद का भरोसा दिया।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top