Uttarakhand News

अब मुंबई में दिखेंगे उत्तराखंड की संस्कृति के रंग, बहुत कारणों से खास है “कौथिग”

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: एक बात तो है, हमारी देवभूमि उत्तराखंड की बात निराली ऐसे ही नहीं है। यहां की संस्कृति, लोक कलाएं और यहां के लोग…उत्तराखंड से प्रेम करने के एक नहीं अनेकों कारण हैं। अब उत्तराखंड के सम्मान और पहचान का प्रतीक सामाजिक व सांस्कृतिक महोत्सव कौथिग-मुंबई में शुरू होने जा रहा है।

यह आयोजन 12 दिन तक होने वाला है और आगामी गुड़ी पाड़वा के दिन यानी 22 मार्च से शुरू हो रहा है। बता दें कि यह उत्सव दो अप्रैल तक चलेगा। कार्यक्रम का आयोजन मुंबई के नेरुल स्थित रामलीला मैदान में किया जाएगा। खास बात ये है कि उत्तराखंड के कलाकार भी वहां दिखेंगे। जुबिन नौटियाल, पवनदीप, प्रसून जोशी, सुधीर पांडेय, उर्वशी रौतेला, हिमानी शिवपुरी इस लिस्ट में शामिल हैं।

गणतंत्र दिवस परेड में उत्तराखंड ने रचा था इतिहास

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में अच्छी शुरुआत, बुजुर्गों के पास निशुल्क तीर्थ यात्रा करने का मौका

गणतंत्र दिवस परेड को अभी तक राजपथ के नाम से जाना जाता था, किंतु इस वर्ष उसका नाम बदलकर कर्तव्य पथ रखा गया है। नाम बदलने के बाद कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस की यह पहली परेड थी, जिसमे उत्तराखंड की झांकी मानसखंड को देश मे प्रथम स्थान मिलने से इतिहास में उत्तराखंड राज्य का नाम दर्ज हो गया है।

To Top