Haridwar News

हरिद्वार कुंभ के लिए SOP हुई जारी, बिना कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट के नहीं मिलेगा मेले में प्रवेश,यहां पढ़ें नियम


हल्द्वानी: केंद्र से आदेश मिलने के बाद उत्तराखंड सरकार ने हरिद्वार में आयोजित होने वाले कुंभ मेले के लिए गाइडलाइन्स जारी की हैं। मुख्य रूप से देखा जाए तो इस बार कोरोना को ध्यान में रखकर एसओपी बनाई गई हैं। लाज़मी है कि इस बार मेले में बिना रजिस्ट्रेशन और बिना कोविड नेगेटिव रिपोर्ट प्रवेश नहीं मिलेगा। साथ ही कई अन्य चीज़ों के लिए भी अलग-अलग निर्देश जारी किए गए हैं। यात्री रजिस्ट्रेशन के लिए www.haridwarkumbhmela2021.com पर आवेदन कर सकते हैं।

सचिव आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास विभाग एसए मुरुगेशन ने मंगलवार को कुंभ मेले के नियमों को साझा किया। इस एसओपी में आश्रम, धर्मशाला, वाहन पार्किंग स्थान, होटल व रेस्टोरेंट, हॉल्टिंग प्वाइंट, धार्मिक स्थल, रेलवे स्टेशन, सार्वजनिक परिवहन और बस स्टेशन के लिए अलग-अलग निर्देश जारी किए हैं। बता दें कि इस बार यात्रियों को धर्मशाला या आश्रम में प्रवेश एंट्री पास और हथेली के ऊपरी भाग पर अमिट स्याही का निशान देखने के बाद ही मिलेगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड का कोई जवाब नहीं, अब बागवानी में मिला सर्वश्रेष्ठ राज्य का अवार्ड

यह भी पढ़ें: धन्यवाद BSNL,आपकी वजह से बच पाई सुरंग में फंसे 12 लोगों की जिंदगी

यह भी पढ़ें:चमोली आपदा:उत्तराखंड पुलिस ने खोया साथी,राजकीय सम्मान के साथ विदा हुए हेड कांस्टेबल मनोज चौधरी

गौरतलब है कि कोविड-19 के इस दौर में मंदिरों में दर्शन के दौरान श्रद्धालुओं के बीच दो गज की दूरी आवश्यक होगी। इतना ही नहीं आपके मोबाइल में आरोग्य सेतु एप होना भी ज़रूरी होगा। इसके अलावा बस चालकों को यह ज़िम्मेदारी दी गई है कि वे किसी भी व्यक्ति को कोरोना के लक्षण के साथ पाते हैं, तो उन्हें इसकी सूचना पुलिस या नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र को देनी होगी। बिना पंजीकरण किसी भी यात्री को किसी भी सूरत में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की बेटियों ने जीती ट्रॉफी, हर खिलाड़ी को CAU देगा 50-50 हजार रुपए

एसओपी के कुछ मुख्य बिंदु

1. शाही स्नान की जो तिथियां अधिसूचित होंगी, उन पर हरिद्वार में बाजार बंद रहेंगे

2. शाही स्नान पर केवल आवश्यक वस्तुओं की दुकानें जैसे- डेयरी, भोजन, दवा, पूजन सामग्री व कंबल की दुकानें ही खुलेंगी।

3. स्नान के लिए केवल 20 मिनट का ही समय दिया जाएगा

4. मौके पर तैनात सुरक्षाकर्मियों की यह जिम्मेदारी होगी कि 20 मिनट का समय पूरा होते ही वह उस जत्थे को बाहर निकालें 

5. गंगा तट पर तैनात सभी सुरक्षाकर्मी पीपीई किट से लैस होंगे 

6. रेल के माध्यम से कुंभ मेला आने वाले तीर्थयात्रियों के पास कुंभ मेले का पंजीकरण होना जरूरी है

7. रेल यात्रियों के पास 72 घंटे के भीतर की कोविड निगेटिव रिपोर्ट भी होनी अनिवार्य है

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा: AAP ने भाजपा सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार व लापरवाही के आरोप, किया मौन धरना प्रदर्शन

8. अगर यह नहीं होंगे तो उन्हें रेलवे स्टेशन से बाहर नहीं आने दिया जाएगा

9. ठीक ऐसे ही नियम बस स्टैंड पर भी लागू किए जाएंगे

सभी में इस बात का सख्ती से लागू किया गया है कि अगर नियमों का पालन नहीं होगा तो सीधे तौर पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005, महामारी रोग अधिनियम 1897 और आईपीसी की धाराओं में कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: बागेश्वर:ग्राम प्रधान के भाई की चमोली आपदा में मौत,इंजीनियर के पद पर थे दीपक कुमार

यह भी पढ़ें:हल्द्वानी कोतवाली बन गई बुद्ध पार्क, कल विरोध में हुआ धरना तो आज समर्थन में…

यह भी पढ़ें: चमोली अपडेट: एक कॉन्स्टेबल और ASI का शव बरामद, मृतकों की कुल संख्या हुई 34

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड क्रिकेट ब्रेकिंग:हेड कोच वसीम जाफर ने एसोसिएशन को भेजा इस्तीफा

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top