Ad
Udham Singh Nagar News

उत्तराखंड: अपने पालतू डॉगी को बचाने के लिए आवारा कुत्तों से भिड़ गई महिला, हुई दर्दनाक मौत

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

ऊधमसिंहनगर: अपने डॉगी से हर कोई प्यार करता है। पालतू जानवर को लोग अपने परिवार के किसी सदस्य की तरह ही प्यार करते हैं। उनपर आंच आए तो लोग लड़ने से भी पीछे नहीं हटते। ऐसी ही एक बानगी ऊधमसिंहनगर में देखने को मिली है। यहां अपने पालतू डॉगी को लावारिस कुत्तों के हमले से बचाने के लिए एक बुजुर्ग महिला ने जान गवां दी। महिला को आवारा कुत्तों ने नोच-नोच कर मौत के घाट उतार दिया। महिला की बेटी भी घायल हुई है।

दरअसल धूमखेड़ा गांव में रहने वाली 70 वर्षीय तारो कौर पत्नी भजन सिंह अपनी बेटी सुनीता कौर निवासी ग्राम आमखेड़ा के यहां दो हफ्ते पहले आई थी। उनकी बेटी के घर में एक पालतू डॉगी था जो रात के समय जंजीर से बंधा था। इतने में आवारा कुत्तों ने आकर उसपर अचानक से धाबा बोल दिया। डॉगी के चीखने की आवाज से तारौ कौर उठकर बाहर गईं और उसे आवारा कुत्तों के चंगुल से छुड़ाने के लिए मेहनत करने लगी।

यह भी पढ़ें 👉  सावित्री कॉलोनी में गंदे काम का भंडाफोड़, बांग्लादेशी युवती समेत तीन गिरफ्तार

इस दौरान कुत्तों ने तारो कौर पर ही हमला बोल दिया। कुत्तों ने उसे बुरी तरह से नोच दिया। चीख पुकार सुनकर उसकी बेटी सुनीता कौर ने आकर बीच बचाव किया तो वह भी घायल हो गई। इतनी देर में आसपास के पड़ोसी भी उठ गए। तारो कौर की हालत देखकर हर कोई सन्न रह गया। उन्हें आनन फानन में नानकमत्ता के निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। फिलहाल सुनीता कौर को बरेली के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज जारी है।

Join-WhatsApp-Group
To Top