Uttarakhand News

पुलिस दरोगा भर्ती मामले में विजिलेंस को मिला पहला CLUE, केस भी हुआ दर्ज

Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: राज्य में परीक्षाओं में हुई धांधली की जांच शुरू हुई तो एक-एक कर कई कड़ियां मिल रही है। UKSSSC परीक्षा मामले में कई लोग गिरफ्तार हो चुके हैं और अब विजिलेंस साल 2015 में हुई पुलिस दरोगा भर्ती की जांच भी कर रही है। जांच से जुड़ा पहला अपडेट सामने आया है कि पंतनगर विश्वविद्यालय में इसकी OMR शीट नष्ट कर दी गई थी। इस मामले में मामला दर्ज कर लिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो कई दरोगाओ की 12वीं के प्रमाण पत्र भी फर्जी हो सकते हैं। माना जा रहा है कि UKSSSC की तरह दरोगा भर्ती मामले में भी बड़ी गिरफ्तारियां हो सकती हैं।

विजिलेंस के निदेशक अमित सिन्हा ने बताया कि जांच में जानकारी मिली है कि विश्वविद्यालय की ओर से कुछ ओएमआर शीट नष्ट की गई हैं।दरोगा भर्ती की ओएमआर शीट की फोटो प्रतिलिपि सुरक्षित है। यह ओएमआर शीट किस नियमानुसार नष्ट की गई इसकी जांच की जा रही है। इसके अलावा 2015 से पहले हुई भर्तियों की ओएमआर शीट विवि में सुरक्षित है। विजिलेंस इस मामले में जांच के लिए विश्वविद्यालय के स्टाफ से भी पूछताछ कर सकता है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
यह भी पढ़ें 👉  पूरे भारत में किरकिरी के बाद उत्तराखंड में बड़ा फैसला, आ गई शिक्षकों की शामत, पढ़ें
To Top