Haridwar News

उत्तराखंड पुलिस का दिल छू लेने वाला रूप, 95 वर्षीय आमा का किया अंतिम संस्कार



हरिद्वार: प्रदेश के पुलिस महकमे को मित्र पुलिस कहें तो कुछ गलत नहीं होगा। उत्तराखंड पुलिस जनता की सेवा में हमेशा ही तत्पर रहती है। इस बार हरिद्वार पुलिस ने एक बूढ़ी आमा का अंतिम संस्कार कर बेटे का फर्ज निभाया है। हर तरफ पुलिस के इस नेक कार्य की तारीफ हो रही है।

Ad

दरअसल हरिद्वार पुलिस ने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से बताया कि सोमवार शाम हरकी पैड़ी पर थैले बेचने वाली 95 वर्षीय संतोषी देवी का निधन हो गया। वह थैले बेचकर ही अपना गुजारा करती थी। जानकारी के मुताबिक आईएएस दीपक रावत ने भी पहले आर्थिक रूप से आमा की सहायती की थी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी से भाजपा के जोगिंदर रौतेला ने भरा नामांकन, बोले मैं एक खुली किताब हूं...

फेसबुक पोस्ट के अनुसार हरकी पैड़ी चौकी प्रभारी अरविन्द रतूड़ी ने बेटे का फर्ज निभाते हुए रोड़ी बेलवाला चौकी प्रभारी पवन डिमरी और साथी जवानों के साथ आमा के शव को कंधा भी दिया और फिर क्रिया कर्म भी किया। दारोगा ने बेटे का फर्ज निभाते हुए उन्हें मुखाग्नि दी।

यह भी पढ़ें 👉  एक बार फिर जोगिंदर रौतेला और सुमित हृदयेश आमने सामने, पिछली टक्कर नहीं भूला है हल्द्वानी

बता दें कि पिछले करीब एक साल से हरकी पैड़ी पुलिस चौकी के जवान निस्वार्थ भाव से आमा के खाने-पीने, दवाई सभी का इंतजाम कर उनकी देखभाल कर रहे थे। इसलिए इस मौके पर पुलिसकर्मियों ने नम आंखों से आमा को अंतिम विदाई दी।

यह भी पढ़ें 👉  वंदना कटारिया ने टोक्यो ओलंपिक में बढ़ाया था भारत का मान...अब देवभूमि की बेटी को मिलेगा पद्मश्री सम्मान

हरिद्वार पुलिस ने फेसबुक पर भावुक पोस्ट लिख कर रिश्तों की अहमियत पर प्रकाश डाला है। पोस्ट ये बताती है कि कुछ रिश्ते भले ही जन्मजात ना मिले हो लेकिन बहुत अहम होते हैं। उत्तराखंड के इन पुलिसकर्मियों को वाकई नमन है, जिन्होंने आमा का अंतिम संस्कार कर एक बेटे का फर्ज निभाया है।

To Top