Uttarakhand News

उत्तराखंड डीजीपी का गजब Idea, अब पुलिसकर्मी Whatsapp के जरिए ले सकेंगे छुट्टी


Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: पुलिसकर्मियों को अब छुट्टी लेने के लिए किसी भी तरह की टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। पहले की तरह अब कर्मियों को छुट्टी के लिए कार्यालयों के चक्कर नहीं काटने होंगे। इमरजेंसी में व्हाट्सएप के जरिए भी पुलिसकर्मी छुट्टी ले सकेंगे। उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार ने नई व्यवस्था के तहत इसकी शुरुआत की है।

उत्तराखंड पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अशोक कुमार समय समय पर अभिनव प्रयास करते रहते हैं। अब आधुनिक जमाने में सब कुछ ऑनलाइन हो रहा है। ऐसे में डीजीपी ने पुलिसकर्मियों के वेलफेयर के तहत नई व्यवस्था शुरू की है। इसे लागू करने के लिए सभी जिला प्रभारियों और सेनानायकों को निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड के 3 लाख से ज्यादा युवाओं झटका,UKSSSC ने 8 भर्ती परीक्षाओं को रोका

डीजीपी अशोक कुमार का कहना है कि कभी कभी ऐसा होता है कि समय ना होने के चलते पुलिसकर्मियों का अवकाश समय से स्वीकृत ही नहीं हो पाता है। जिस वजह से कर्मियों को अनचाही मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में पुरानी व्यवस्था को सुधारने के लिए नया प्लान बनाया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  हद है...काठगोदाम के पास पैराफिट पर बैठकर शराब पी रहे हल्द्वानी के दो युवक गौला नदी में गिरे

उन्होंने कहा कि अब अगर किसी पुलिसकर्मी को इमरजेंसी में छुट्टी चाहिए तो वह व्हाट्सएप के जरिए छुट्टी ले सकता है। कर्मी अगर उच्चाधिकारियों के पास जाकर छुट्टी के लिए आवेदन नहीं दे सकता तो उन्हें वाट्सएप पर छुट्टी का प्रार्थना पत्र भेज सकता है। हालांकि साथ में अपनी परेशानी भी बतानी होगी। उच्चाधिकारी भी छुट्टी स्वीकृति के वक्त कर्मी को अवगत कराएंगे।

Join-WhatsApp-Group
To Top