Uttarakhand News

उत्तराखंड रोडवेज की खाली बस को भगा ले गया चालक, रास्ते में ट्रक-बाइक-कार को मारी टक्कर, पांच घायल

उत्तराखंड रोडवेज की खाली बस को भगा ले गया चालक, रास्ते में ट्रक-बाइक-कार को मारी टक्कर
Ad
Ad
Ad
Ad

टनकपुर: ऐसा बहुत कम होता है कि रोडवेज के चालक, परिचालक या कर्मी ज्यादा दिनों तक विवाद भरी सुर्खियों से दूर रहें। इस बार एक ऐसा मामला सामने आया है कि जिसने हर किसी को चौंका दिया है। दरअसल बेलचा दिखाकर खाली बस को लेकर दौड़े चालक ने रास्ते में ट्रक, बाइक और कार को टक्कर मार दी। इस पूरे मामले में चालक समेत कुल पांच लोग घायल हुए हैं। चालत की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है।

टनकपुर छीनीगोठ निवासी संविदा चालक मोहन चंद्र कलौनी टनकपुर डिपो में कार्यरत है। वह कई महीनों से ड्यूटी ना मिलने से परेशान हो गया था। जिस वजह से गुरुवार को उसने अजीबो गरीब हरकत कर डाली। गुरुवार को मोहन चंद्र अपने साथ बेलचा लेकर बस अड्डे पहुंचा। जहां पर बस क्रमांक यूके07पीए2982 का चालक सुरेश राणा और परिचालक पूरन बिष्ट सवारियों को इकठ्ठा कर रहे थे।

मोहन कलौनी ने वहां पहुंचकर चालक को डराया और वहां पहुंचा और खाली बस स्टीयरिंग पकड़ते हुए गाड़ी को दौड़ा ले गया। मोहन चंद्र बस को बनबसा की ओर लेकर भागा तो रास्ते में बस की चपेट में एक बाइक सवार मामूली रूप से घायल हो गया। थोड़ा आगे जाकर फागपुर गेट शौर्य होटल के पास उसने सड़क किनारे खड़ी कार टक्कर मार दी। इतना ही नहीं बल्कि इसके बाद बस ट्रक से जाकर भिड़ गई।

यह भी पढ़ें 👉  बड़े-बड़े खिलाड़ियों की लिस्ट में आर्यन जुयाल का नाम, पूरे उत्तराखंड का नाम हुआ रौशन

इस जोरदार टक्कर की वजह से मोहन सहित ट्रक में बैठे मजदूर किशन कुमार, मोती राम, मोहन स्वरूप, कृष्ण कुमार घायल हो गए। बताया जा रहा है कि सभी पीलीभीत उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। फिलहाल पुलिस ने मौके पर पहुंचकर तत्परता दिखाते हुए घायलों को टनकपुर के संयुक्त चिकित्सालय में भिजवाया। खुद मोहन की हालत गंभीर बताई जा रही है और ऐसी स्थिति में उसे हायर सेंटर भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  अब पहाड़ में मिलेगी EXTRA सैलरी, आदेश ने शिक्षकों को खुश कर दिया...!

रोडवेज के एआरएम केएस राणा ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि स्टेशन प्रभारी सिटी शांति सुयाल द्वारा कोतवाली में संविदा चालक मोहन कलौनी के खिलाफ शिकायत की गई। बताया गया है कि जब मोहन स्टेशन से बस लेकर भाग रहा था तो उसमें चार यात्री थे। मगर मोहन के हाथ में बेलचा देखकर वे सभी उतर गए थे। गौरतलब है कि चालक व परिचालक हल्द्वानी के लिए सवारियां भर रहे थे।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top