Dehradun News

सैन्यधाम में हर व्यक्ति करेगा CDS रावत को प्रणाम,वीर सपूत के नाम पर होगा मुख्यद्वार का नाम


File Photo

देहरादून: देवभूमि में बन रहे सैन्यधाम (Sainya Dham) के मुख्य द्वार का नाम सीडीएस स्व. जनरल बिपिन रावत के नाम पर रखने का निर्णय लिया गया है। इसका शिलान्यास करने के लिए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) बुधवार को देहरादून आ रहे हैं। इस दौरान जहां वह भूमि पूजन व शिलान्यास के बाद जनसभा को संबोधित करेंगे तो वहीं शहीद सम्मान यात्रा का भी समापन होगा।

Ad

सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी (Ganesh Joshi) ने प्रेस वार्ता में जानकारी दी और बताया कि प्रदेश के 1734 शहीद सैनिकों के आंगन की मिट्टी सैन्य धाम लाई गई है। जिसके लिए 15 नवंबर से कुमाऊं व गढ़वाल में शहीद सम्मान यात्रा का संचालन किया जा रहा था। इस मिट्टी को एक बड़े कलश में रखा जाएगा। फिर अमर जवान ज्योति (Amar Jawan Jyoti) की नींव में रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  डीडीहाट नहीं तो क्या रामनगर से ही चुनाव लड़ेंगे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत...?

जानकारी के अनुसार करीब 50 बीघा भूमि पर सैन्यधाम को 63 करोड़ रुपये की लागत से बनाया जाना है। दो वर्ष के भीतर पूरे होने वाले इस धाम में बाबा जसवंत सिंह और बाबा हरभजन सिंह का मंदिर भी बनाया जाएगा। द्वितीय विश्वयुद्ध (Second World War) के बाद से अबतक शहीद हुए हर सैनिक के चित्र के साथ उनके बारे में जानकारी दी जाएगी। धाम में लाइट एंड साउंड सिस्टम, टैंक, जहाज व अन्य सैन्य उपकरण भी रखे जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  पहाड़ों की रानी मसूरी में हुई सीजन की दूसरी बर्फबारी...वीकेंड पर लुत्फ उठाने पहुंचे सैलानी

बता दें कि बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आगमन के दौरान केंद्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट व मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी उपस्थित रहेंगे। साथ ही सीडीएस जनरल बिपिन रावत (CDS General Bipin Rawat) के नाम पार मुख्य द्वार का नाम रखा जाएगा। गौरतलब है कि बीते बुधवार को ही हेलिकॉप्टर क्रैश में देश से पहले सीडीएस बिपिन रावत समेत उनकी पत्नी व 11 अन्य लोग अपनी जान गंवा बैठे थे। बहरहाल उक्त कार्यक्रम में 204 शहीदों के स्वजन व वीर नारियों को सम्मानित किया जाएगा।

To Top