Nainital-Haldwani News

पीएम मोदी ने दुनिया को दिया नैनीताल में घोड़ा लाइब्रेरी शुरू करने वाले शुभम का परिचय


हल्द्वानी: मन की बात कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी युवाओं का जिक्र जरूर करते हैं। जो कहानी उनके अद्भूत लगती है उसके बारे में दुनिया को जरूर बताते हैं। पीएम मोदी ने इस बार नैनीताल जिले के शुभम का परिचय दुनिया को दिया है। शुभम ने नैनीताल जिले के सुदूरवर्ती कोटाबाग विकासखंड में घोड़ा लाइब्रेरी शुरू की हुई है। पिछले कुछ वक्त से शुभम का ये कार्य सुर्खियों में है।

प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में नैनीताल की घोड़ा लाइब्रेरी को सराहा। जिले में कुछ युवाओं ने बच्चों के लिए अनोखी घोड़ा लाइब्रेरी की शुरुआत की है। बेशक गर्मियों की छुट्टियों में बच्चे विद्यालयों से दूर रहे, लेकिन पुस्तकें बच्चों से दूर नहीं रही। वाक्या नैनीताल जिले के सुदूरवर्ती कोटाबाग विकासखंड के गांवों का है, जहां हिमोत्थान टाटा ट्रस्ट ने गर्मियों की छुट्टियों में भी बच्चों तक बाल साहित्यिक पुस्तकें पहुंचाने का जिम्मा लिया।

हिमोत्थान के शुभम बधानी ने बताया कि दूरस्थ पर्वतीय गांवों (तल्ला जलना, मल्ला जलना, मल्ला बाघनी, सल्वा एवं बदनधुरा) में जहां ना सड़क हैं, ना जाने की अन्य कोई सुविधाएं, कुछ पगडंडी रास्ते हैं, लेकिन वो भी भूस्खलन की मार झेल रहे हैं। ऐसे में हिमोत्थान टाटा ट्रस्ट द्वारा पर्वतीय गांव बाघनी, छड़ा, सल्वा, जलना के युवाओं एवं स्थानीय शिक्षा प्रेरकों की मदद से घोड़ा लाइब्रेरी की शुरुआत की गई। प्रत्येक 4-5 दिन के अंतराल में दुर्गम पर्वतीय ग्राम तोकों में घोड़ा लाइब्रेरी के माध्यम से पुस्तकें उपलब्ध कराई गई। इस पहल में शिक्षा प्रेरक सुभाष बधानी, स्थानीय लोग हरीश बधानी, मनोज बधानी, रवि रावत, शरद बधानी, कौशल कुमार आदि का विशेष योगदान रहा।

मन की बात कार्यक्रम सुनते-सुनते जैसे ही केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने नैनीताल जिले के कोटाबाग के दूरस्थ क्षेत्र में घोड़ा लाइब्रेरी वाले युवाओं का जिक्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मुंह से सुना तो वह खुद को रोक नहीं पाए उन्होंने तत्काल ग्रामीण क्षेत्रों में घोड़ा लाइब्रेरी चलने वाले शुभम को दूरभाष पर बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित की है।

To Top