Nainital-Haldwani News

हल्द्वानी में JE ने प्राधिकरण को लगाया करोड़ों का चूना, RTI में सामने आई करोड़ो की हेराफेरी

हल्द्वानी: प्राधिकरण के एक जेई के खिलाफ गंभीर आरोप लगे हैं। हल्द्वानी के वरिष्ठ आरटीआई कार्यकर्ता रवि शंकर जोशी ने हल्द्वानी में प्रेस वार्ता करते हुए जेई पर आरोप लगाए हैं। जेई ने अपने पद का गलत इस्तेमाल किया और प्राधिकरण को करोड़ों के राजस्व की चपत लगा दी। आरटीआई कार्यकर्ता रवि शंकर जोशी ने प्रेसवर्ता में बताया कि हल्द्वानी ठंडी सड़क क्षेत्र में अशोक पाल नाम के व्यापारी द्वारा बहुमंजिला बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है, जिसका नक्शा भी पास नहीं है। लेकिन बाद कंपाउंडिंग के नाम पर पैसे वसूलने का खेल शुरू हुआ।

कनिष्ठ अभियंता मनोज अधिकारी ने व्यापारी के लिए केवल 24 लाख रुपए कंपाउंडिंग फीस रखी। रविशंकर जोशी ने शक होने पर आरटीआई से सारे दस्तावेज मांगे और बाद में जिलाधिकारी और सिटी मजिस्ट्रेट को शिकायत भी कर दी। इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सिटी मजिस्ट्रेट ने मामले में जांच की जिस पर पाया गया कि बहुमंजिली इमारत के कंपाउंडिंग की रकम बहुत कम आंकी गई है।

जांच के बाद व्यापारी को एक करोड़ 73 लाख 54 हजार 984 की धनराशि और जमा करने का नोटिस जारी किया। इसके साथ ही बिल्डिंग भी सील कर दी गई है। आरटीआई कार्यकर्ता रवि शंकर जोशी ने कहा कि ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक मुकदमे दर्ज किया जाना चाहिए। अपने व्यक्तिगत फायदे के लिए ऐसे अधिकारी राजकोष को नुकसान पहुंचा रहे हैं। आरटीआई कार्यकर्ता रवि शंकर जोशी ने जिलाधिकारी वंदना सिंह के जेई के खिलाफ कार्रवाई को लेकर शिकायती पत्र दिया है।

To Top
Ad