Haridwar News

वंदना कटारिया ने टोक्यो ओलंपिक में बढ़ाया था भारत का मान…अब देवभूमि की बेटी को मिलेगा पद्मश्री सम्मान


हॉकी स्टार वंदना कटारिया को मिलेगा अर्जुन अवार्ड, भाई ने कहा आज पिताजी होते तो बहुत खुश होते...
Ad
Ad

हरिद्वार: पिछले साल टोक्यो में हुए ओलंपिक्स में भारत की बेटियों ने शानदार प्रदर्शन किया था। हॉकी में भारत ने बेहतरीन खेल दिखाया था। भारतीय हॉकी टीम में खेल रही हरिद्वार की वंदना कटारिया ने इतिहास रचा था। वंदना कटारिया ओलंपिक में गोलों की हैट्रिक लगाने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनी थीं। अब हैट्रिक गर्ल वंदना कटारिया को पद्मश्री से सम्मानित किया जाएगा।

Ad
Ad

वंदना कटारिया हरिद्वार के रौशनाबाद गांव की निवासी हैं। बीते दिन यानी गणतंत्र दिवस के मौके पर भारत सरकार ने कई सारी पुरस्कारों के लिए नामों की घोषणा की है। जिनमें पद्मश्री के लिए हैट्रिक गर्ल वंदना कटारिया को चुना गया है। बेटी को पद्मश्री मिलने से पहले हरिद्वार में जश्न का माहौल है। वंदना के गांव से लेकर प्रदेश के खेल प्रेमियों में खुशी की लहर है।

जब पिछले साल ओलंपिक में वंदना कटारिया ने हैट्रिक लगाई थी तो बेटी की इस उपलब्धि पर पूरे भारत में मिठाइयां बांटी गई थीं। प्रदेश सरकार से लेकर कई सारे खेल प्रेमियों, संगठनों ने वंदना का सम्मान किया था। साथ ही इस मौके पर पिछले साल वंदना कटारिया को भारत सरकार ने अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया था

अब मंगलवार को भारत सरकार ने वंदना कटारिया को पद्मश्री से सम्मानित करने की घोषणा की है। वंदना को पद्मश्री अवार्ड मिलने से ग्रामीणों, खेल प्रेमियों और खिलाड़ियों में खुशी की लहर है। ग्रामीणों का कहना है कि वंदना ने गांव का नाम एक बार फिर रोशन किया है। जिला प्रभारी क्रीड़ा अधिकारी वरुण बेलवाल ने इसे गौरव का पल बताया।

उन्होंने कहा कि वंदना लड़कियों के लिए प्रेरणा है। उनकी कहानी से सीख मिलती है कि आपके पास प्रतिभा है तो संसाधनों की जरूरत नहीं है। वंदना के भाई पंकज कटारिया, लखन कटारिया, माता स्वर्ण देवी ने बताया कि वंदना ने पिता के सपने को साकार कर उनको सच्ची श्रद्धांजलि दी है। ग्रामीणों की माने तो वंदना जैसे ही गांव पहुंचेगी उसका भव्य स्वागत किया जाएगा। वाकई में उत्तराखंड के लिए यह गर्व की बात है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
Ad
To Top