Almora News

बेस अस्पताल में पानी का संकट, गर्भवती महिलाओं को रेफर करने की नौबत आ गई…

File Photo
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

अल्मोड़ा: आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के मरीजों को सरकारी अस्पतालों की सबसे अधिक जरूरत होती है। इसलिए ये आवश्यक हो जाता है कि इनकी दशा ठीक ठाक रहे मगर सोबन सिंह जीना राजकीय आयुर्विज्ञान एवं शोध संस्थान मेडिकल कालेज (Soban Singh Jeena medical college, Almora) के अधीन बेस अस्पताल में आए जल संकट ने चिंता बढ़ा दी है। पानी का अभाव इतना हो गया कि डाक्टरों ने प्रसव कराने से ही इन्कार कर दिया।

बताया जा रहा है कि इस कारण दो गर्भवती महिलाओं को महिला अस्पताल रेफर करना पड़ा। हवालबाग ब्लाक के ग्राम ओडल गोविंदपुर निवासी दीपा तिवारी और बाड़ेछीना निवासी गर्भवती नीरू को बीते दिन बेस अस्पताल (Base Hospital Almora water shortage) लाया तो गया मगर यहां उनका इलाज नहीं हो सका। प्रसव से पूर्व ही डॉक्टरों ने दोनों को महिला अस्पताल रेफर कर दिया।

गौरतलब है कि पहाड़ी इलाकों (Medical facilities in Uttarakhand hilly areas) में स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने हेतु अल्मोड़ा में मेडिकल कालेज की स्थापना हुई थी। मगर अब ये बुरा हाल देखकर लोग परेशान हैं। पानी का संकट सभी व्यवस्थाओं को पस्त कर रहा है। प्राचार्य प्रो. सीपी भैसोड़ा ने बताया कि संबंधित विभाग से दिक्कत दूर करने को कहा गया है। विभाग ने फिलहाल टैंकर भेजने की बात कही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में विधायक की पत्नी के खिलाफ शासन की कार्रवाई, छिन गया पद
To Top