Haridwar News

देवभूमि में चमत्कार! अंतिम संस्कार से मिनटों पहले ज़िंदा हुई 102 वर्षीय महिला


रुड़की: कुछ घटनाएं होती हैं, जिनपर विश्वास कर पाना मुश्किल होता है। देवभूमि तो वैसे भी दैवीय चमत्कारों के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है। अब जो नया मामला सामने आया है, उसे चमत्कार कहा जाएगा या नहीं, ये तो आप खुद ही सोचिए मगर हम आपको पूरी जानकारी दे देते हैं। दरअसल, रुड़की के एक कस्बे में अंतिम संस्कार से ठीक पहली मृत हो चुकी बुजुर्ग महिला जिंदा हो गई।

जी हां, नारसन खुर्द के रहने वाले विनोद की 102 वर्षीय माता ज्ञान देवी पूरे क्षेत्र में सबसे बुजुर्ग महिला हैं। उन्हें काफी समय से शारीरिक कष्ट भी हो रहे थे। मंगलवार की सुबह महिला मूर्छित हो गई। डॉक्टर के पास ले जाया गया तो उसने मृत घोषित कर दिया। घर में रोने का माहौल बन गया और उधर एक-एक कर सभी रिश्तेदारों को सूचित करने का सिलसिला भी जारी रहा।

देखते ही देखते घर पर भीड़ इकठ्टा हो गई। लोग व रिश्तेदार बुजुर्ग महिला के अंतिम दर्शन को पहुंचने लगे। अंतिम संस्कार की तैयारी भी पूरी हो गई। मगर जैसे ही शव को ले जाने की बारी आई तो बॉडी में कुछ हरकत होने लगी। महिला को हिलाया गया तो वह आंखें खोलकर उठ पड़ी। फिर क्या था, पहले तो किसी को विश्वास ही नहीं हुआ।

बाद में लोगों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया। विनोद ने बताया कि मां के जीवित होने पर पूरा गांव खुश है। उन्होंने बताया कि होश में आने के बाद उनकी माता पहले की तरह ही खाना पीना शुरू कर चुकी हैं।

To Top