Haridwar News

उत्तराखंड की अमिता गिरी का MIT अमेरिका में हुआ चयन, बेटी को आप भी कहिए Well Done

Ad
Ad
Ad
Ad

रुड़की: बेटियां सौभाग्य से होती हैं और बेटियां अपने परिवार का भाग्य बदलने में भी अहम भूमिका निभाती हैं। देवभूमि की बेटियों ने पिछले कुछ समय में बड़ी बड़ी छलांग लगाई हैं। अब रुड़की की एक बेटी ने उत्तराखंड वासियों को गौरव के पल दिए हैं। अमिता गिरी की मेहनत रंग लाई है। बेटी का चयन एमआईटी अमेरिका के लिए हो गया है।

गौरतलब है कि अपने वैज्ञानिक और तकनीकी प्रशिक्षण और अनुसंधान के लिए विश्व में प्रसिद्ध Massachusetts Institute of technology (MIT, USA) में हर किसी को पढ़ने का मौका नहीं मिलता। इसमें चयनित होने वाले छात्रों की संख्या काफी कम होती है। मौजूदा वक्त की बात करें तो 100 लोगों में केवल 4 छात्रों के आवेदन स्वीकार किए जाते हैं।

एमआईटी अमेरिका में चयनित होने के लिए आपको अच्छे ग्रेड के साथ साथ टेस्ट स्कोर, निबंध और सिफारिश के पत्रों की भी जरूरत होती है। लेकिन रुड़की निवासी अमिता गिरी ने अपनी मेहनत से ये मुकाम हासिल किया है। बता दें कि अपनी प्रारंभिक शिक्षा रुड़की से पूरी करने के बाद अमिता स्काईवार्ड सीनियर सेकेंडरी स्कूल रुड़की की छात्रा रही हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देवभूमि शर्मसार, मानसिक रूप से बीमार युवती को दो युवकों ने बनाया गंदी हरकत का शिकार

अमिता ने एनआईटी श्रीनगर से बीटेक किया है। अब अमिता का चयन एमआईटी अमेरिका के लिए हुआ है। अब बेटी दुनिया की सबसे बड़े संस्थानों में से एक संस्थान यानी एमआईटी में बायो मेडिकल एंड सिग्नल प्रोसेसिंग विषय पर शोध करेगी। इससे पहले अमिता गिरी आईआईटी दिल्ली से पीएमआरएफ स्कीम में पीएचडी धारक भी हैं। उन्हें एनआईटी में बीटेक में गोल्ड मेडल भी हासिल है। अमिता की इस सफलता से उनके परिवार, दोस्तों, रिश्तेदार, गुरुजनों व पूरे क्षेत्र में हर्ष का माहौल है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
To Top