Sports News

पैरा ओलंपिक में भारत की अवनि लेखरा ने शूटिंग में जीता गोल्ड, 11 साल की उम्र में हुआ था हादसा


पैरा ओलंपिक में भारत की अवनि लेखरा ने शूटिंग में जीता गोल्ड, 11 साल की उम्र में हुआ था हादसा

नई दिल्ली: ओलंपिक के समापन के बाद टोक्यो पैरालिंपिक में भी भारत अपना लोहा मनवा रहा है। अब भारत ने पहला गोल्ड भी जीत लिया है। जी हां, महिला निशानेबाज अवनि लेखरा ने भारत को पहला गोल्ड जिता दिया है। उन्होंने 10 मीटर एयर स्टैंडिंग में पैरालिंपिक्स रिकॉर्ड बनाया है।

अवनि लेखरा ने फाइनल में 249.6 पॉइंट हासिल किए, जो कि पैरालिंपिक्स खेलों के इतिहास का नया रिकॉर्ड है। बता दें कि अवनि का फाइनल में मुकाबला चीन की निशानेबाज से साथ हुआ। मुकाबला आसान नहीं था, चीन की खिलाड़ी ने कड़ी टक्कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान का निधन

लेकिन फिर अवनि भी अपने निशाने से नहीं चूकी और सीधा गोल्ड पर निशाना साध कर उसे देश के नाम किया। चीन की महिला शूटर झांग 248.9 अंक के साथ दूसरे नंबर पर रहीं और उन्होंने सिल्वर मेडल जीता।

यह भी पढ़ें 👉  बधाई दीजिए... बेटियों ने इतिहास रचा है, उत्तराखंड महिला टीम की फाइनल में धमाकेदार एंट्री

गौरतलब है कि महज 11 साल की उम्र में अवनि लेखरा एक सड़क हादसे की शिकार हुई थी। जिसमें उन्हें स्पाइनल कोर्ड में चोट आई। यही कारण था कि वह पैरालाइज हो गईं।

राजस्थान के जयपुर से ताल्कुक रखने वाले अवनि की महिलाओं के 10 मीटर एयर स्टैंडिंग निशानेबाजी के SH1 इवेंट में 5वीं वर्ल्ड रैंकिंग है। पैरा स्पोर्ट्स में उतरने के लिए अवनि के पीछे उनके पिता का भी हौसला था।

यह भी पढ़ें 👉  भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान का निधन

शुरुआत में शूटिंग और आर्चरी में हाथ आजमाने के बाद अवनि ने अंत में शूटिंग में ही आगे बढ़ने का फैसला किया। अपने पहले पैरालिंपिक में ही गोल्ड जीतने वाली अवनि बीजिंग ओलिंपिक्स के गोल्ड मेडलिस्ट निशानेबाज अभिनव बिंद्रा को अपना आदर्श मानती हैं। गौरतलब है कि गोल्ड मेडल जीतने के दौरान उन्होंने वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी भी की है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top