Uttarakhand News

बाबा रामदेव का विवादित बयान,गिरफ्तार तो किसी का बाप भी नहीं करा सकता


देहरादून: बाबा रामदेव द्वारा एलोपैथ को स्टूपिड साइंस बताने का मामला शांत नहीं हो रहा है। बाबा रामदेव को चिकित्सकों ने निशाने पर लिया है। उनका कहना है कि रामदेव के शब्द कोरोना काल में सेवा में जुटे डॉक्टरों का अपमान करते हैं। उन्होंने उनकी गिरफ्तारी की मांग की है। इस मामले में बाबा की ओर से एक और विवादित बयान सामने आया है। उनका कहना है कि किसी का बाप भी रामदेव को गिरफ्तार नहीं करा सकता है। बुधवार को सोशल मीडिया पर इसी विवाद के चलते ‘अरेस्ट बाबा रामदेव’ ट्रेंड कर रहा था और इस बयान के साथ उन्होंने React किया है।

बाबा रामदेव ने आईएमए पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि अरेस्ट तो उनका बाप नहीं कर सकता बाबा रामदेव को, लेकिन वह एक शोर मचा रहे हैं कि ‘क्विक अरेस्ट स्वामी रामदेव’। उन्होंने कहा कि कभी कुछ चलाते हैं, कभी कुछ चलाते हैं। कभी ठग रामदेव, कभी महाठग रामदेव। अब अपने लोगों को भी ट्रेंड चलाने की प्रैक्टिस हो गई हैं। उन्होंने ताली बजाई और हंसते हुए कहा कि आप ट्रेंड में हमेशा ही टॉप पर पहुंच जाते हो इसके लिए आपको बधाई है।

बता दें कि कुछ दिन पहले एलोपैथी और एलोपैथिक चिकित्सकों पर बाबा रामदेव ने टिप्पणी की थी। इसके बाद पूरे देश में तूफान उठ गया। रामदेव ने तो यह भी पूछ डाला कि यदि एलोपैथी सर्वशक्तिमान और सर्वगुण संपन्न है तो फिर एलोपैथिक चिकित्सकों को बीमार नहीं होना चाहिए। बाबा रामदेव ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन व फार्मा कंपनियों से 25 सवाल भी पूछे हैं। बाबा रामदेव द्वारा की गई टिप्पणी पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन ने पत्र लिखा और कहा कि उनकी टिप्पणी एलोपैथिक चिकित्सकों का मनोबल तोड़ने वाली है। 

इस मामले में ताजा अपडेट ये सामने आया है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने बाबा रामदेव को एलोपैथीऔर एलोपैथी डॉक्टरों पर अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए उन्हें मानहानि का नोटिस भेजा है। संघ ने रामदेव से 15 दिनों के अंदर माफी मांगने या 1000 करोड़ रूपये का मुआवजा देने के लिए तैयार रहने के लिए कहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 10वीं पास युवाओं की भी लगेगी पोस्ट ऑफिस में नौकरी, तुरंत करें आवेदन

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top