Election Talks

डैमेज कंट्रोल शुरू…भाजपा ने चार पूर्व मुख्यमंत्रियों को सौंपी नाराज नेताओं को मनाने की जिम्मेदारी!


Ad
Ad

देहरादून: भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में 70 विधानसभा सीटों के लिए अपने चेहरे तो साफ कर दिए मगर इसी कड़ी में भाजपा ने कई नेताओं को गुस्सा भी कर दिया। इन्हीं रूठे हुए नेताओं को मनाने के लिए अब पार्टी ने तैयारी तेज कर दी है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो पार्टी ने सांसदों के साथ ही प्रदेश के 4 पूर्व मुख्यमंत्रियों को भी काम पर लगा दिया है।

Ad
Ad

उल्लेखनीय है कि इस बार भारतीय जनता पार्टी ने कई सिटिंग विधायकों के टिकट काटे हैं। इतना ही नहीं बल्कि कई तगड़े दावेदारों को भी टिकट नहीं दिया गया है। ऐसे में इन नेताओं का गुस्सा होना लाजमी सी बात है। मगर भाजपा नहीं चाहेगी कि इन सभी का गुस्सा आगामी विधानसभा चुनाव में उन पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सके।

ऐसे में इन सभी नेताओं को मनाना बेहद जरूरी हो जाता है। भाजपा ने इसी ओर कदम बढ़ाने शुरू भी कर दिए हैं। प्रदेश भाजपा की हाल में हुई बैठक में डैमेज कंट्रोल की जिम्मेदारी यहां के सभी सांसदों को सौंपने का फैसला लिया गया था। इस बीच पार्टी ने प्रांतीय पदाधिकारियों को भी इस मोर्चे पर लगा दिया है। इसके अलावा मीडिया रिपोर्ट्स से एक और खबर सामने आ रही है।

मीडिया रिपोर्ट की मानें तो भाजपा ने सांसदों के साथ ही चार पूर्व मुख्यमंत्रियों को जिम्मेदारी सौंप दी है। जी हां, रमेश पोखरियाल निशंक, विजय बहुगुणा, त्रिवेंद्र सिंह रावत व तीरथ सिंह रावत को रूठे हुए नेताओं को मनाने के काम पर लगाया गया है। देखना होगा कि भाजपा डैमेज कंट्रोल करने में कामयाब होती है या फिर नाराज नेता किसी ना किसी तरीके से पार्टी को नुकसान पहुंचाते हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top