Ad
Pithoragarh News

पिथौरागढ़ के कैप्टन देवेश जोशी को गैलेंटरी अवार्ड, देवघर हादसे में 21 लोगों को बचाया था…

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

पिथौरागढ़: प्रदेश के युवा सेना में शामिल होकर देश की रक्षा तो करते ही हैं। साथ ही विभिन्न मौकों पर अपना शौर्य और साहस दिखाकर उत्तराखंड को गौरवान्वित भी करते हैं। अब गौलचौरा के मूल निवासी कैप्टन दिवेश जोशी को उनके साहस और वीरता के लिए गैलंट्री अवॉर्ड से नवाजा गया है। बता दें कि उन्होंने झारखंड देवघर में रोपवे में फंसे 21 यात्रियों की जान बचाई थी।

गौरतलब है कि झारखंड के देवघर में रोपवे में ट्रॉली में 48 घंटे तक फंसे पर्यटकों को सुरक्षित निकालने हेतु ऑपरेशन त्रिकूट चलाया गया था। करीब 17 रोपवे खराब होने के बाद सभी यात्री हवा में अटक कर रह गए थे। जिसमें महिलाएं, बच्चे, बुजुर्ग भी शामिल थे। लेफ्टिनेंट देवेश ने ही टीम का नेतृत्व किया था और 21 यात्रियों की जान बचाई थी।

यह भी पढ़ें 👉  अंकिता हत्याकांड में स्कूटी व बाइक बरामद, सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया

अब कैप्टन देवेश जोशी को दिल्ली में राष्ट्रपति द्वारा अदम्य साहस के लिए गैलंट्री अवॉर्ड प्रदान किया गया है। जो कि उत्तराखंड के लिए बहुत ही गर्व की बात है। बता दें कि देवेश 2020 में कमीशन प्राप्त कर भारतीय सेना में कैप्टन बने थे। जब उन्हें पदक मिलने की जानकारी उनके पैतृक गांव में पता चली तो माहौल जश्न का हो गया। कैप्टन देवेश वर्तमान में खटीमा के निवासी हैं। उनके पिता जीसी जोशी हल्द्वानी में शिक्षक हैं और माता ग्रहणी हैं।

Join-WhatsApp-Group
To Top