Nainital-Haldwani News

घर बैठे बैठे Euro Kids स्कूल के नन्हे मुन्हे छात्रों ने मनाया Earth Day, दिया ज़रूरी संदेश


हल्द्वानी: इंसान कितना भी कर ले, पृथ्वी के कर्ज को कभी उतार नहीं सकता है। देखा जाए तो पृथ्वी हमारी नहीं है बल्कि हम पृथ्वी के हैं। जीवन का सबसे मूल आधार ही पृथ्वी है। छोटे छोटे बच्चों में पृथ्वी को लेकर समझदारी दिखे तो लगता है कि आने वाली पीढ़ी सही दिशा में है। हल्द्वानी के बच्चों को इस सही दिशा में ले जाने का काम यूरो किड्स पब्लिक स्कूल कर रहा है।

हल्द्वानी बरेली रोड श्रीपुरम स्थित EDU MOUNT इंटरनेशनल स्कूल या यूरो किड्स पब्लिक स्कूल ने पृथ्वी दिवस पर समस्त छात्रों के साथ ऑनलाइन बातचीत की तथा तमाम एक्टीविटी भी करवाईं। बच्चों ने ना सिर्फ पृथ्वी दिवस को वर्चुअली मनाया बल्कि खूब बढ़-चढ़ कर ऑनलाइन प्रोग्राम में हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा: AAP ने भाजपा सरकार पर लगाए भ्रष्टाचार व लापरवाही के आरोप, किया मौन धरना प्रदर्शन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में बैंक केवल 4 घंटे के लिए खुलेंगे, आदेश जारी हुआ

यह भी पढ़ें: कोरोना अलर्ट उत्तराखंड, तीन दिन तक बंद रहेंगे सरकारी दफ्तर

स्कूल की प्रिंसिपल नम्रता सेन ने बताया कि पृथ्वी के बिना कुछ भी संभव नहीं। पृथ्वी के मोल को समझना बहुत आवश्यक है। अगर भगवान ना करे पृथ्वी मनुष्यों से रूठ गई या हम उसका ख्याल नहीं रख पाए तो वाकई जीवन कठिन हो जाएगा।

यूरो पब्लिक स्कूल में पृथ्वी दिवस (Earth Day) को किस तरह मनाया गया, इस पर भी प्रधानाचार्या नम्रता सेन ने प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि तमाम प्रोग्राम वर्चुअली ही किए गए। नर्सरी के छात्रों तक ने अपने घरों के पास पौधारोपण किया और धरती को और सुंदर बनाने में सहयोग किया।

यह भी पढ़ें 👉  सफाई कर्मचारियों के समर्थन में उतरे सुमित हृदयेश, हल खोजे नगर निगम नहीं तो होगा उग्र आंदोलन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में निजी कॉलेज भी बंद हुए, इन छात्रों को मिलेगी छूट, आदेश जारी

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: बची सिंह रावत के बाद भाजपा के एक और बड़े नेता का निधन

इसके अलावा उन्होंने बताया कि छात्रों ने धरती से जुड़ी कविताएं और स्लोगन भी पढ़े। कक्षा तीन की अभिनव छात्रा भव्या आसवानी ने तो सबका दिल ही जीत लिया। छोटी बच्ची ने पृथ्वी का 3D मॉडल तैयार किया था।

यह भी पढ़ें 👉  अब भी नहीं सुलझी कांग्रेस की आपसी कलह , फिर से गहलोत और पायलट के बीच तकरार !

प्रधानाचार्या नम्रता सेन ने बताया कि इस दिवस को मनाने का अहम कारण यही था कि बच्चों को धरती के बारे में प्रेरित किया जा सके। साथ ही समस्त लोगों को 3R (Reduce Reuse Recycle) का महत्व बताया जा सके। साथ ही बच्चों को पौधों की महत्वता बताई गई और छात्रों ने प्लास्टिक को अधिक इस्तेमाल ना कर ऑर्गेनिक चीज़ों को बढ़ावा देने का संदेश भी दिया।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में करीब दोगुने लोगों ने कोरोना वायरस को हराया, बुलेटिन देखें

यह भी पढ़ें: उत्तराखण्ड पत्रकार महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष निशीथ सकलानी कोरोना संक्रमित

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad - Vendy Sr. Sec. School
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top