Haridwar News

IAS बनी उत्तराखंड की सदफ, बिना कोचिंग के टॉप 30 में बनाई जगह


Ad
Ad

देहरादून: यूपीएससी नतीजों में उत्तराखंड के युवाओं का प्रदर्शन शानदार रहा। पिछले दो दिन से उत्तराखंड का नाम रौशन करने वाले युवाओं की ही बातें हो रही है। रुड़की के मोहितपुर गांव की सदफ चौधरी ने यूपीएससी नतीजों में ऑल इंडिया 23 रैंक हासिल की है। ये कामयाबी इसलिए भी खास है क्योंकि उन्होंने बिना कोचिंग के ही सफलता प्राप्त की है।

Ad
Ad

सदफ रुड़की की ग्रीन पार्क कॉलोनी की निवासी हैं। शुक्रवार को रिजल्‍ट आने के बाद से उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।उन्‍होंने अपने घर पर ही पढ़ाई कर 2 साल की कड़ी मेहनत के बाद ये मुकाम हासिल किया है। परिवार में खुशी का माहौल है। सदफ के पिता प्रथमा यूपी ग्रामीण बैंक, नागल शाखा देवबंद में मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं।सदफ अपने पिता मोहम्मद इसरार, मां शाहबाज बानो, बहन सायमा व भाई मोहम्मद साद के साथ रहती हैं। बेटी ने आईएएस बन माता-पिता के साथ पूरे परिवार का नाम रोशन किया है।

सदफ ने अपनी कामयाबी का श्रेय माता पिता के आशीर्वाद को दिया है। माता पिता के प्यार, भरोसे और त्याग की वजह से वह सफल हो पाई हैं। एनआईसी जालंधर से बीटेक करने बाद उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने का फैसला किया। उन्‍होंने कहा कि ये मुकाम उन्‍हें बेहद कड़ी मेहनत और लगन से हासिल हुआ है।

यह भी पढ़ें 👉  हरिद्वार उफनती गंगा में कूदी 70 साल की अम्मा, फुर्ती देखकर आपकें भी उड़ जाएंगे होश- वीडियो

उत्तराखंड की कामयाबी की लिस्ट पर नजर डालें तो ऊधमसिंह नगर की वरुणा अग्रवाल ने परीक्षा में 38वीं रैंक हासिल की है। नैनीताल की शैलजा पांडे ने 61वीं, हरिद्वार के उत्कर्ष तोमर ने 172वीं, रामनगर के देवांश पांडे ने 201वीं, बागेश्वर के कांडा तहसील के भतोड़ा गांव निवासी सिद्धार्थ धपोला ने 293वीं और रानीखेत के जनौली गांव निवासी तुषार मेहरा ने 306वीं रैंक हासिल कर राज्य का नाम रौशन किया है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top