Election Talks

मैनें सरिता आर्या की काफी मदद की, उन्हें बड़े भाई पर भरोसा नहीं, हरीश रावत बोले… मुझे दुख हुआ


Ad
Ad

नई दिल्ली:कांग्रेस में हरक सिंह रावत की वापसी को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि उनके ऊपर संसदीय बैठक में फैसला लिया जाएगा। सरिता आर्या पर हरीश रावत ने कहा कि उन्हें इस बात का दुख है कि वो अब कांग्रेस का हिस्सा नहीं है। हरीश रावत ने कहा कि मैने सरिता आर्या की काफी मदद की और उन्हें अपने बड़े भाई पर भरोसा नहीं है, मुझे इस बात का दुख है।

Ad
Ad

उन्होंने कहा कि हम उनके लिए कोई ना कोई रास्ता निकालते। कांग्रेस एक ऐसा मंदिर जहां से कोई निराश नहीं जाता है। थोड़ा बहुत हर किसी को मिलता है। उन्होंने कहा कि मुझे कई बार लोगों ने धक्का मारकर गिराया लेकिन मैं उठा और आज भी कांग्रेस की सेवा कर रहा हूं। मुझे कांग्रेस के प्रति आस्था अभी भी है।

हरक सिंह रावत पर उन्होंने कहा कि उन्होंने अगर बड़ा भाई बोला है तो मैं बड़े भाई होने का फर्ज निभाऊंगा लेकिन लोकतंत्र को जो झेलना पड़ा है। जनता को भी हिसाब देना पड़ता है। इस दौरान उन्होंने स्वर्गीय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की बात कही कि दलबदल लोकतंत्र में सबसे बड़ा पाप है।

उन्होंने कहा कि वह मेरे छोटे भाई हैं और छोटे भाई को हर कोई प्यार करता है। मैं बड़े भाई होने का फर्ज जरूर निभाऊंगा। उन्होंने कहा कि आगामी चुनावों में जनता परिवर्तन के मूड में है और कांग्रेस ही उत्तराखंड में सरकार बनाएगी।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top