Rudraprayag News

केदारनाथ में हेलीकॉप्टर क्रैश के एक दिन बाद ही हेली सेवा पर लगी रोक को हटाया गया

Ad
Ad
Ad
Ad

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ धाम से दर्शन कर लौट रहे छह श्रद्धालुओं और एक पायलट की बीते दिन हेलीकॉप्टर क्रैश में मौत हो गई थी। गरुड़ चट्टी के समीप यह हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ। बताया जाता है कि क्रैश होते ही हेलीकॉप्टर के परखच्चे उड़ गए थे। शव भी जहां तहां बिखर गए थे। मगर हेली सेवा पर लगी रोक को अब हटा दिया गया है।

गौरतलब है कि मौसम खराब, घना कोहरा हेलीकॉप्टर क्रैश के मुख्य कारण बताए जा रहे हैं। हालांकि, पूरी जानकारी तो जांच के बाद ही सामने आएगी। जांच बुधवार से शुरू होने वाली है। मगर आपको बता दें कि जांच से पहले ही यहां पर हेली सेवा पहले की तरह ही शुरू कर दी गई है। दरअसल, बीते दिन हादसे के बाद हेली सेवा पर रोक लगाई थी।

जानकारी के अनुसार प्रशासन की ओर से राहत व बचाव कार्य पूरे होने तक की हेली सेवा रोकी गई थी। अब हेली सेवा फिर शुरू हो गई है। फिलहाल केदारनाथ में नौ कंपनियां हेली सेवाओं का संचालन कर रही हैं। यहां हर घंटे छह हेलीकॉप्टर को उड़ान की अनुमति है। केदारनाथ में हर दिन 55 से लेकर 60 बार हेलीकॉप्टर उड़ान भरते हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड मुख्य सचिव के कड़े तेवर, चिंतन शिविर में बोले एक हफ्ते में रिपोर्ट दें अधिकारी
To Top