Almora News

अच्छी खबर: ISRO से पीएचडी कर रही रानीखेत की हिमानी जोशी ने साइंस में जीता गोल्ड मेडल


अल्मोड़ा: राज्य के प्रतिभाशाली युवाओं की जितनी भी तारीफ की जाए कम है। कोई विदेश में पहुंचकर तो कोई देश के कोने कोने में देवभूमि का नाम रौशन कर रहा है। एक ऐसी ही रौशनी से भरी खबर सामने आई है। ताड़ीखेत विकासखंड के एक गांव की बेटी हिमानी जोशी ने मास्टर ऑफ साइंस (जियोलॉजी) परीक्षा-2020 के लिए गोल्ड मेडल जीत लिया है।

पहाड़ की बेटियां पढ़ाई के क्षेत्र में रोज नए मुकाम हासिल कर रही हैं। इसी कड़ी में अब ताड़ीखेत के खग्यार गांव की हिमानी जोशी ने हर किसी को गौरवान्वित होने का मौका दिया है। दरअसल हिमानी ने वनस्थली विद्यापीठ (राजस्थान) की ओर से मास्टर ऑफ साइंस (जियोलॉजी) परीक्षा-2020 की मेरिट में प्रथम स्थान प्राप्त किया। जिसके लिए उन्हें स्वर्ण पदक से नवाजा जाएगा।

बता दें कि कुलपति ने उन्हें सम्मान के तौर पर प्रशस्तिपत्र व पदक प्रदान किया है। गौरतलब है कि हिमानी वर्तमान में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) से पीएचडी कर रही हैं। जो कि अपने आप में एक बड़ी बात है। हिमानी जोशी हिमालयन पर्यावरण अध्ययन एवं संरक्षण संगठन से पद्मभूषण अनिल प्रकाश जोशी की अगुआई में पर्यावरण के लिए अच्छे काम कर चुके दधीचि अवार्डी प्रकाश जोशी की बेटी हैं।

जानकारी के अनुसार हिमानी ने पं.गोविंद बल्लभ जोशी जूनियर हाईस्कूल जैनोली से आठवीं तथा 10वीं तक की पढ़ाई आर्मी स्कूल जबकि वियरशिबा स्कूल से 12वीं की पढ़ाई पूरी की। हिमानी हमेशा से पढ़ाई में मेधावी रही हैं। उन्होंने पहले वनस्थली विवि राजस्थान से उच्च शिक्षा पूरी की थी। उसके बाद ही इसरो से पीएचडी का सफर शुरू किया।

बेटी की इस उपलब्धि पर घर परिवार में हर कोई खुश है। हिमानी ने अपनी सफलता का श्रेय दधीचि अवार्डी पिता प्रकाश व माता दीपा जोशी एवं अन्य गुरुजनों को दिया। पद्मभूषण अनिल प्रकाश जोशी ने भी बेटी को शुभकामनाएं दी हैं। हिमानी के गृह क्षेत्र में इस सफलता का महत्व देखते ही बनता है। वाकई में बेटियां व प्रदेश के युवा रोज सफलता का नया आसमान छू रहे हैं।

To Top