National News

दिल्ली में लॉकडाउन जैसे हालात, सीएम केजरीवाल ने लगाई सख्त पाबंदियां


Ad
Ad

नई दिल्ली: देश की राजधानी से बड़ी खबर सामने आई है। दिल्ली में फिर से लॉकडाउन जैसे हालात हो गए हैं। सीएम केजरीवाल ने आपात बैठक बुलाकर कई सख्त फैसले लिए हैं। जिसमें कई चीजों पर प्रतिबंध लगाया गया है। उन्होंने कहा कि अगर हालत नहीं सुधरी तो लॉकडाउन लगाया जाएगा। बता दें कि ये लॉकडाउन कोरोना वायरस नहीं बल्कि वायु प्रदुषण के लिए लगाया जा सकता है।

Ad
Ad

गौरतलब है कि हर साल की तरह ही इस बार भी दिवाली के बाद से दिल्ली के हवा सांस लेने लायक तक नहीं बची है। हवा जहरीली हो गई है और घुटन का सिलसिला जारी है। नवंबर की शुरुआत से लेकर अब तक सात दिन राजधानी दिल्ली में गंभीर स्तर का प्रदूषण और दो बार इमरजेंसी स्तर के हालात हो चुके हैं।

सीपीसीबी के मुताबिक क्यूआई स्तर शनिवार को 437 रहा और रविवार की सुबह Air Quality Index (AQI) 386 है जो कि गंभीर श्रेणी में आता है। इसी के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट ने भी टिप्पणी की थी। जिसके बाद केजरीवाल सरकार ने आपात बैठक बुलाई और कई सख्त पाबंदियां लगा दी हैं।

क्या खुला क्या बंद

सोमवार से एक हफ्ते तक स्‍कूल ऑनलाइन चलेंगे, यानी स्‍टूडेंट्स को स्‍कूल नहीं जाना है

प्राइवेट संस्‍थानों को भी एडवाइजरी जारी की जाएगी

पॉल्‍यूशन कंट्रोल को लेकर जो उपाय सुझाए गए हैं, उनमें मार्केट खोलने या बंद करने के बारे में कुछ नहीं कहा गया है

14 नवंबर से 17 नवंबर तक सभी कंस्‍ट्रक्‍शन ऐक्टिविटीज पर रोक लगा दी गई है

एक हफ्ते के लिए सभी सरकारी दफ्तरों के कर्मचारी पूरी तरह घर से काम (WFH) करेंगे

बाजार में रोजमर्रा की चीजें पहली की तरह मिलेंगी, इनसे जुड़ी सभी दुकानें और व्‍यावसायिक संस्‍थान खुले रहेंगे

हालांकि सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अभी लॉकडाउन नहीं लगाया गया है। लेकिन हालात ना सुधरने की स्थिति में इसपर भी विचार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अगर स्थिति और खराब होती है तो दिल्‍ली में पूरी तरह लॉकडाउन लगाया जा सकता है। बता दें कि इसे लेकर एक प्रस्‍ताव तैयार किया जा रहा है। ऐसे में देखना होगा कि आने वाले दिनों में दिल्ली की हवा कैसी रहती है।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top