Uttarakhand News

BSNL का बिछेगा जाल,एक हजार से ज्यादा टावर लगेंगे तो पहाड़ों में भी सुनाई देगी मोबाइल की घंटी


Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून:मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को नई दिल्ली में केंद्रीय मंत्री, रेल, संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना तकनीक अश्विनी वैष्णव से शिष्टाचार भेंट की। उत्तराखण्ड में मोबाइल नेटवर्क को मजबूत करने के मुख्यमंत्री के अनुरोध पर केंद्रीय मंत्री ने उत्तराखण्ड में बीएसएनएल के 1206 मोबाइल टावर की स्वीकृति दी। प्रत्येक मोबाइल टावर की लागत 1 करोड़ रुपये आएगी। उत्तराखंड में कई ऐसे गांव हैं जहां अभी भी मोबाइल नेटवर्क नहीं पहुंचे हैं। आगे पढ़ें…

लोगों को मोबाइल से बात करने के लिए घर से दूर जाना पड़ता है। बीएसएनएल के टावर लगने से ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट भी पहुंच पाएगा। सबसे जरूरी बीएसएनएल और उत्तराखंड के ग्रामीणों का साथ काफी पुराना है। पर्वतीय क्षेत्रों में सबसे पहले बीएसएनएल ने अपनी सेवा शुरू की थी। इसके अलावा बीएसएनएल के लैंडलाइन टेलीफोन का इस्तेमाल आज भी उत्तराखंड के सैंकड़ों घरों में होता है। बीएसएनएल को आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए ये स्वीकृति बेहद अहम साबित हो सकती है। आगे पढ़ें…

यह भी पढ़ें 👉  रक्षाबंधन पर मालामाल हुआ उत्तराखंड रोडवेज, हुई करोड़ों की कमाई

इसके अलावा बीएसएनएल भी आधुनिक दौर में बड़ी कंपनियों से मुकाबला कर रहा है। फाइबर नेटवर्क में उसे कामयाबी मिली है। दूसरी ओर भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर धमाकेदार प्रीपेड प्लान लॉन्च किया है।  इस प्लान के साथ यूजर्स को हर महीने 75 GB डाटा मिलेगा। अगर आप भी BSNL में लंबी वैधता वाले प्रीपेड प्लान की तलाश कर रहे हैं, तो 2022 रुपये का प्रीपेड प्लान आपके लिए काफी फायदेमंद है। यह ऑफर 31 अगस्त 2022 तक है।

Join-WhatsApp-Group
To Top