Uttar Pradesh

मसूरी में युवक ने ऑनलाइन मंगाया जहर, मौत के बाद FLIPKART के खिलाफ केस दर्ज


मसूरी में युवक ने ऑनलाइन मंगाया जहर, मौत के बाद FLIPKART के खिलाफ केस दर्ज

नई दिल्ली: आधुनिक दुनिया में हर छोटी से बड़ी चीज़ ऑनलाइन हो गई है। किसी भी तरह का सामान अब झट से ऑनलाइन मंगा लिया जाता है। पर इसे लेकर अब एक गंभीर मामला सामने आया है। दरअसल मसूरी थाने में कोर्ट के आदेश के बाद फ्लिपकार्ट कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। यह केस इसलिए दर्ज किया गया है क्योंकि एक कैब ड्राइवर की मौत फ्लिपकार्ट से जहर मंगाकर खाने के बाद हुई थी।

जानकारी के अनुसार गाजियाबाद मसूरी के खांचा रोड निवासी 24 वर्षीय अब्दुल वाहिद की मौत हो गई। अब्दुल कैब चलाता था। कोरोना काल में उसकी कमाई बहुत प्रभावित हुई थी, इसलिए वह तनाव में रहने लगा था। तनाव का नतीजा ये रहा कि उसने 25 सितंबर 2021 को ऑनलाइन जहर मंगाया। जी हां, व्यक्ति ने फ्लिपकार्ट से कीटनाशक मंगाकर खा लिया।

दम तोड़ने से पहले उसने ये बताया कि जहर ऑनलाइन मंगाया था। बता दें कि इसका रैपर उसके कैब में मिला था। हालत बिगड़ने पर उसे सर्वोदय अस्पताल ले जाया गया था। जहां उसकी मौत हो गई थी। मामले में परिजनों की ओर से पैरवी कर रहे अधिवक्ता रहीसुद्दीन के मुताबिक पुलिस को तहरीर दी गई थी। लेकिन इसके बावजूद पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया।

जिसके बाद कोर्ट में अर्जी दी गई। अब अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सुधांशु शेखर ने मसूरी थाने को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। मसूरी थाना के प्रभारी योगेंद्र सिंह ने जानकारी दी और बताया कि फ्लिपकार्ट के निदेशक प्रवीण प्रसाद, कार्यवाहक निदेशक मनोज एस मनी और क्षेत्रीय प्रबंधक अनुभव शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

उन्होंने बताया कि दो नामजद आरोपियों को नोटिस जारी कर दिया गया है। उनका बयान दर्ज करने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि कोर्ट के आदेश पर दर्ज की गई एफआईआर में मसूरी थाना पुलिस ने गैर इरादतन हत्या और साजिश रचने की धारा लगाई है। युवक के ऑनलाइन जहर मंगाने की चर्चा हर तरफ हो रही है।

To Top