Nainital-Haldwani News

खतरा! नैनीताल में पर्यटकों की भीड़ बढ़ने से झील पर पड़ा असर, तीन सालों में सबसे कम हुआ जलस्तर


Photo - India Travel Blog
Ad
Ad

नैनीताल: सरोवर नगरी में पर्यटकों की आमद जब जब बढ़ती है, तब तब नैनी झील पर भी खतरा मंडराने लगता है। इस बार पर्यटकों की भीड़ बढ़ी तो नैनीताल में झील का स्तर पिछले 3 साल में सबसे कम लेवल पर आ गया है। दरअसल भीड़ की वजह से शहर में पेयजल की मांग दोगुनी हो गई है। इसलिए जल संस्थान रोज 16 एमएलडी पानी की निकासी झील से कर रहा है।

Ad
Ad

यही कारण है कि झील का जलस्तर रोज के रोज करीब 1 इंच तक गिर जा रहा है। अप्रैल में नैनी झील पिछले 3 सालों में अपने सबसे न्यूनतम जल स्तर तक पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि ऐसी स्थिति बनी रही तो मई के मध्य तक बुरे परिणाम झेलने पड़ सकते हैं। वहीं, नैनीताल में व्यावसायिक निर्माण कार्य ज्यादा होने की वजह से भी नैनीताल झील पर असर पड़ रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें काफी अधिक पानी की जरूरत पड़ती है।

झील नियंत्रण कक्ष प्रभारी रमेश गैड़ा ने जानकारी दी और बताया कि सोमवार को नैनीताल झील का जलस्तर अपने गेज लेवल से 5 फीट साढ़े 10 इंच रिकॉर्ड किया गया। जो कि पिछले 3 सालों में सबसे न्यूनतम स्तर है। 2019 अप्रैल में झील का जलस्तर 3 फीट 7 इंच तक पहुंच गया था। तब स्थिति इतनी खराब थी कि पानी के किनारे आकर मछलियां तक मर गई थीं। इसके बाद ही शहर में पेयजल की कटौती शुरू की गई थी।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top