Ad
Tehri News

धनौल्टी में मलबे में बदला घर, एक ही परिवार के पांच लोग लापता, दो की मौत

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

टिहरी: प्रदेश के विभिन्न स्थानों में मौसम खराब बना हुआ है। कई इलाकों में भारी बारिश के कारण भूस्खलन से जान माल का नुकसान हुआ है तो कहीं कहीं पर बादल फटने के मामले भी सामने आए हैं। टिहरी जिले के धनौल्टी क्षेत्र में काफी नुकसान होने की जानकारी मिली है। अब तक 4 लोगों की मौत भी हो चुकी है।

बीती रात देहरादून में बादल फटने की घटना के बाद आज टिहरी जिले में भी बादल फटा है। जनपद के धनौल्टी क्षेत्र की बात करें तो यहां एक घर देखते ही देखते मलबे में तब्दील हो गया। जानकारी के अनुसार इस हादसे में घर में रहने वाले परिवार के सात लोग दब गए। जबकि 2 लोगों के शव मलबे से निकाल लिए गए हैं। पूरी घटना से उत्तराखंड के संवेदनशील क्षेत्रों में दहशत बढ़ गई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: जंगल में मिला 50 दिन से लापता गर्भवती महिला का कंकाल, मचा हड़कंप

प्रदेश में अभी तक कुल 4 मौतों की जानकारी प्राप्त हुई है। साथ ही 13 लोग लापता और 12 लोग घायल बताए जा रहे हैं। धनौल्टी एसडीएम लक्ष्मी राज चौहान ने जानकारी दी और बताया कि वह पूरे मामले पर नजर रखे हुए हैं। गौरतलब है कि कई जगह मलबा आ जाने से मकान टूटे हैं तो कहीं उफनती नदी नालों में लोग फंसे हुए हैं। एसडीआरएफ की टीम भी लगातार रेस्क्यू अभियान चला रही है।

यह भी पढ़ें 👉  अंकिता हत्याकांड के बाद नगर के लोगों में गुस्सा, सड़कें जाम, दुकानें बंद...

जानकारी के मुताबिक धनौल्टी में हुए भूस्खलन में अब तक 2 लोगों के शव बरामद किए हैं। जिनकी पहचान 35 वर्षीय राजेंद्र सिंह पुत्र स्व. गुलाब सिंह एवं सुनीता देवी पत्नी राजेंद्र सिंह के रूप में हुई है। इसके अलावा 40 वर्षीय कमांद सिंह, 60 वर्षीय मगन देवी, 35 वर्षीय रुकमणी देवी, 15 वर्षीय सचिन एवं 17 वर्षीय बीना लापता हुए हैं। जिनकी तलाश अभी जारी है।

Join-WhatsApp-Group
To Top