Uttarakhand News

हेलीकॉप्टर क्रैश की दुखद कहानी, पूर्वा ने मौत से चंद मिनटों पहले ली थी सेल्फी…

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

रुद्रप्रयाग: जिंदगी के अप्रत्याशित होने के कुछ प्रमाण वाकई डरा देते हैं। दो पल में खुशियां मातम में तब्दील हो जाती हैं। केदारनाथ हेलीकॉप्टर क्रैश में सात लोगों की मौत हो गई। केदारनाथ धाम में बाबा केदार की दर्शन करते वक्त गुजरात निवासी 26 वर्षीय पूर्वा द्वारा ली गई सेल्फी उनकी जिंदगी की आखिरी सेल्फी साबित हुई।

बता दें कि मंगलवार को केदारनाथ से छह यात्रियों को लेकर गुप्तकाशी लौट रहा हेलीकॉप्टर क्रैश होने से पायलट सहित सभी सवारियों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि खराब मौसम के बावजूद हेलीकॉप्टर उड़ाया गया था और इसी वजह से घने कोहरे में हेलीकॉप्टर टेक ऑफ होने के दो मिनट बाद ही पहाड़ी से टकरा गया। महाराष्ट्र, गुजरात और तमिलनाडू के इन मृतकों में चार महिलाएं हैं।

एक कहानी इंटरनेट पर चर्चा का केंद्र बनी हुई है। गुजरात की 26 वर्षीय पूर्वा रामानुज ने मौत से कुछ मिनटों पहले ही बाबा के धाम में आखिरी सेल्फी ली थी। इस फोटो में पूर्वा के चेहरे पर मुस्कान है। जिसे देखकर हर कोई भावुक हो रहा है। वाकई, चंद मिनटों पहले खुशियां और उसके बाद जीवन का अंत। जीवन के अप्रत्याशित होने का इससे बड़ा दुखद उदाहरण कोई नहीं हो सकता।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड रोडवेज बसों का संचालन ठप...कहीं ये केवल ट्रेलर तो नहीं ? पूरा पढ़ें
To Top