रामनगर के अनुज रावत ने लगाई दिल्ली की नैया पार,उत्तराखंड विजय हजारे ट्रॉफी से बाहर

0
484

हल्द्वानी: विजय हजारे ट्रॉफी में उत्तराखंड का अंतिम-8 में पहुंचने का सपना दिल्ली ने तोड़ दिया है। प्री क्वार्टर फाइनल मुकाबले में दिल्ली ने उत्तराखंड को 4 विकेट से हराया। दिल्ली की जीत के हीरो रहने नैनीताल जिला रामनगर निवासी अनुज रावत। अनुज रावत ने नाबाद 95 रनों की पारी खेली। उन्होंने 7वें विकेट के लिए कप्तान प्रदीप सांगवान के साथ 143 रनों की साझेदारी कर मुकाबले को पलट दिया।

एक वक्त पर उत्तराखंड की जीत नजर आ रही थी लेकिन दोनों बल्लेबाजों ने सभी को हैरान कर दिया। एक वक्त पर दिल्ली को करीब 10 से ज्यादा की औसत से रन चाहिए थे। इसके साथ ही उत्तराखंड विजय हजारे ट्रॉफी से बाहर हो गई है। वनडे इतिहास में उत्तराखंड की यह तीसरी हार है। इससे पहले साल 2018 में बिहार और साल 2019 में चंड़ीगढ़ ने उत्तराखंड को मात दी थी।

प्री क्वार्टर फाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने उतरी उत्तराखंड ने टीम ने निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट के नुकसान पर 287 रन बनाए। कमल सिंह कन्याल 77, जयबिष्टा 31, कप्तान कुनाल चंदेला 62, दीक्षांशु नेगी 20, वैभव भट्ट 29, सौरभ रावत 44 और मयंक मिश्रा ने 15 रनों का योगदान दिया। दिल्ली की ओर से गेंदबाजी में कप्तान प्रदीप सांगवान तीन, ललित यादव और नीतिश राणा दो और शिवांक को एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की शुरुआत बेहद खराब रही। दिल्ली ने 100 रनों के भीतर ही अपने 5 विकेट खो दिए थे। मनजोत कालरा 29, ध्रुव शोरे 2, हिम्मत सिंह 1, क्षितिज शर्मा 13 और ललित यादव 9 रन बनाकर पवेलियन लौट गए थे। उत्तराखंड इतिहास रचने की ओर बढ़ रहा था। नीतिश राणा और अनुज रावत ने दिल्ली को झटकों से उभारा। दोनों ने छठे विकेट के लिए 62 रनों की साझेदारी की। नीतिश राणा 81 रन बनाकर आउट हुए और लगा कि दिल्ली शायद ही वापसी कर पाएगी।

युवा बल्लेबाज अनुज रावत का प्लान कुछ और ही था। उन्होंने कप्तान प्रदीप सांगवान के साथ पहले लक्ष्य के करीब पहुंचे और फिर ताबड़तोड़ अंदाज में बल्लेबाजी। अनुज रावत ने 85 गेंदों में नाबाद 95 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी में 7 चौके और 6 छक्के शामिल थे। वहीं प्रदीप सांगवान ने 49 गेंदों में 58 रन बनाए। उन्होंने 6 चौके और 2 छक्के जमाए। उत्तराखंड की ओर से गेंदबाजी में समथ फल्लाह को 2, मयंक मिश्रा 1, आकाश मधवाल 1 और दीक्षांशु नेगी को एक विकेट हासिल हुआ।

अनुज रावत के पिता वीरेंद्र सिंह रावत ने बेटे के प्रदर्शन पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि आज अनुज ने परिपक्वता दिखाई है। किसी को उम्मीद नहीं थी कि नीतिश राणा के आउट होने के बाद मैच दिल्ली के पक्ष में जाएगा लेकिन कप्तान प्रदीप सांगवान और अनुज रावत ने करके दिखाया। इसी तरह की पारी खिलाड़ियों को अलग लेवल पर ले जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here