Sports News

टी-20 ट्रॉफी में हार का सिलसिला तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश से भिड़ेगी उत्तराखंड टीम


Ad
Ad

हल्द्वानी: साल 2021-22 घरेलू क्रिकेट की शुरुआत हो गई गई है। नया सीजन उत्तराखंड पुरुष टीम के लिए अच्छा नहीं रहा है। सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उत्तराखंड सीनियर टीम को लगातार तीन हार का सामना करना पड़ा है। टीम का बल्लेबाजी क्रम अभी तक अच्छा प्रदर्शन करने में कामयाब नहीं रहा है और यही टीम की हार का कारण बन रहा है। सोमवार को उत्तराखंड टीम हार के सिलसिले को तोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के खिलाफ मैदान पर उतरेगी।

Ad
Ad

उत्तराखंड के बीते मुकाबलों पर नजर डाले तो अभी तक सभी मुकाबलों में टीम को लक्ष्य का पीछा करना पड़ा है। पहले मुकाबले में टीम ने दिल्ली के खिलाफ खेला था। दिल्ली ने उत्तराखंड को 122 रनों का लक्ष्य दिया था और यह मुकाबला उत्तराखंड 35 रनों से हार गया था। दूसरे मुकाबले में हैदराबाद ने उत्तराखंड को 168 का लक्ष्य दिया था। इस मुकाबले में टीम के बल्लेबाजों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था और 61 रनों से उसे हार का सामना करना पड़ा था। तीसरे मुकाबला सौराष्ट्र के खिलाफ हुआ था और यह मुकाबल अंत तक गया जरूर था लेकिन उत्तराखंड टीम 2 रन से मुकाबला हार गई। सौराष्ट्र ने उत्तराखंड को 147 रनों का लक्ष्य था।

व्यक्तिगत प्रदर्शन पर गौर करें तो बल्लेबाजी में अभी तक उत्तराखंड के लिए सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में रॉबिन बिष्ट के बल्ले से एक मैच में सर्वाधिक 45 रन निकले हैं। ये बताने के लिए काफी है कि टीम के बल्लेबाज लय हासिल करने में जूझ रहे हैं। हालांकि पिछले मुकाबले में कुनाल चंदेला 26,जय बिष्टा 24 और दीक्षांशु नेगी ने 22 रन बनाए और अच्छी शुरुआत मिली लेकिन कोई भी बल्लेबाज इस शुरुआत को बड़े स्कोर में तब्दील करने में कामयाब नहीं रहा था।

वहीं बल्लेबाजों की तुलना में गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा है। तीन में से दो मुकाबले में गेंदबाजों ने विपक्षी टीम को 150 से पहले रोका है और टी-20 के लिहाज से ये अच्छा प्रदर्शन कहा जा सकता है। तीन मुकाबलों में मयंक मिश्रा ने सर्वाधिक 4 विकेट झटके हैं। जबकि आकाश मधवाल दो, निखिल कोहली तीन और दीक्षांशु नेगी को दो विकेट मिले हैं।

Join-WhatsApp-Group
Ad
Ad
Ad
To Top