Nainital-Haldwani News

हल्द्वानीवासियों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी, अब मिनटों में गायब होंगे आवारा पशु


Haldwani News: Nagar Nigam: Help Line Number: अगर आप भी अपने घर के आसपास या सड़क किनारे घूम रहे लावारिस पशुओं से परेशान हैं तो अब आपकी यह दिक्कत दूर होने जा रही है। हाईकोर्ट की सख्ती के बाद अब नगर निगम प्रशासन ने लावारिस पशुओं से निजात दिलाने के लिए आम जनता के लिए वाट्सएप नंबर और ईमेल आईडी जारी की है। ऐसे में अब दिन हो या रात, आप कभी भी लावारिस पशुओं से संबंधित शिकायत नगर निगम प्रशासन से कर सकते हैं।

नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया कि लावारिस पशुओं की समस्या का संज्ञान लेते हुए हाईकोर्ट ने निस्तारण के लिए सख्त निर्देश दिए। इसी क्रम में नगर निगम की ओर से सड़क किनारे घूम रहे लावारिस पशुओं को पकड़ने के लिए अभियान चलाया गया। लेकिन अभी भी हल्द्वानी के कई इलाकों में लावारिस पशुओं की समस्या बनी हुई है। जिस कारण सड़क पर चलते राहगीरों और वाहन चालकों को जान जोखिम में रखकर सफर करना पड़ रहा है।

आमजन की इसी समस्या को देखते हुए अब नगर निगम ने व्हाट्सएप नंबर और ईमेल आईडी जारी की है। जिस पर शहरवासी लावारिस अथवा निराश्रित पशुओं से जुड़ी जानकारी अथवा शिकायत दर्ज करा सकते हैं। ऐसे में अगर आप भी अपने घर के आसपास या सड़क किनारे घूम रहे लावारिस पशुओं से मुक्ति चाहते हैं तो हेल्पलाइन नंबर 8267005112 पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके अलावा ईमेल आईडी [email protected] पर भी विस्तार से अपनी बात लिख सकते हैं। नगर आयुक्त ने बताया कि शिकायत मिलते ही नगर निगम की टीम संबंधित व्यक्ति से बात कर मौके पर पहुंचेगी और आवारा पशु को अस्थायी गोशाला ले जाएगी।

बताते चलें कि लंबे समय से हल्द्वानी की मुख्य सड़कों के अलावा लिंक मार्गों और बाजार क्षेत्र में लावारिस पशुओं के झुंड के झुंड नजर आ रहे थे। जिस कारण कई बार राहगीर और वाहन सवार चोटिल भी हुए तो कई बार जान पर भी बन आई। बीते दिनों लालडांठ रोड पर घर के बाहर खड़े एक व्यक्ति और बाजार क्षेत्र में एक राजमिस्त्री को आवारा पशु की वजह से जान तक गंवानी पड़ी थी। आमजन से जुड़ी यह गंभीर समस्या जब हाईकोर्ट के समक्ष पहुंची तो मामले में नगर निगम प्रशासन की फुर्ती भी देखने को मिली। हाईकोर्ट की फटकार के बाद नगर निगम अस्थाई गोशाला के लिए जमीन देखने और बनाने के लिए सक्रिय हुआ। जिला प्रशासन ने भी मामले की गंभीरता को देखते हुए नगर निगम के अधिकारियों के पेंच कसे। जिसके बाद शहर में शीशमहल स्थित सरकारी जमीन पर अस्थायी गोशाला बनाने की पहल की गई। अब नगर निगम ने हल्द्वानी के लोगों की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी जारी की है। देखना होगा कि आम लोगों को लावारिस पशुओं से निजात दिलाने की यह पहल कितनी असरकारी साबित होती है।

To Top