Dehradun News

उत्तराखंड में होगा एक्सप्रेस वे का निर्माण,केवल ढाई घंटे में पूरा होगा देहरादून से दिल्ली का सफर


देहरादून: देहरादून-दिल्ली एक्सप्रेसवे बनने का रास्ता साफ हो गया है। भारतीय वन्यजीव बोर्ड ने इस परियोजना को हरी झंडी दे दी है। 180 किलोमीटर के इस एक्सप्रेस के बनने से देहरादून से दिल्ली मात्र ढाई घंटे में ही पहुंचा जा सकेगा। यह एक्सप्रेसवे दून से सहारनपुर, शामली, बागपत होते हुए दिल्ली से जुड़ेगा। मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक जेएस सुहाग ने बताया कि हाल ही में भारतीय वन्यजीव बोर्ड की बैठक में इस परियोजना को मंजूरी दे दी गई है।

इस परियोजना के तहत देहरादून के निकट डाटकाली मंदिर के पास राज्य की सीमा पर सुरंग का निर्माण भी किया जाना है। इस एक्सप्रेसवे के निर्माण में उत्तर प्रदेश के गणेशपुर से लेकर देहरादून के बीच करीब 20 किलोमीटर के हिस्से में वन्यजीव बोर्ड की सहमति की जरूरत थी। यह हिस्सा राजाजी टाईगर रिजर्व पार्क और शिवालिक एलिफेंट रिजर्व पार्क का है।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड की बहादुर बेटी, बच्चे का अपहरण कर रहे बदमाशों से भिड़ गई 10 साल की अग्रिमा

यह भी पढ़े:उत्तराखंड वैक्सीनेशन के लिए तैयार, राज्य भर में बनाए गए हैं 400 बूथ, हल्द्वानी भी लिस्ट में शामिल

गौरतलब है कि, देहरादून-दिल्ली एक्सप्रेसवे के लिए प्रशासन ने पिछले साल जनवरी में मंजूरी दी थी। उस समय नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के तत्कालीन चेयरमैन एसएस संधू ने कहा था कि यह एलिवेटिड रोड होगा। इसमें कुछ हिस्सा राजाजी पार्क और कुछ हिस्सा उत्तर प्रदेश के वन क्षेत्र का है। इसी के मद्देनजर NHAI ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से भारतीय वन्यजीव बोर्ड से सहमति लेने का आग्रह किया था।

उत्तराखंड के वन मंत्री हरक सिंह रावत का कहना है कि यह एक्सप्रेस वे दिल्ली और देहरादून के बीच की सड़क मार्ग से आवागमन को आसान बनाएगा और यह प्रदेश के लोगों के लिए वरदान साबित होगा। यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में पर्यावरण को कम से कम नुकसान पहुंचे। अगले 3 महीनों के भीतर इसका काम शुरू हो जाएगा।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड पहुंचने वाली पर्यटक इलेक्ट्रिक कार से कर सकेंगे मगरमच्छों का दीदार,सफारी होगी शुरू

यह भी पढ़े:रुद्रपुर पुलिस कार्यालय से कोविड-19 का डाटा चोरी,महकमे में मचा हड़कंप

To Top