Ad
Rudraprayag News

घर लिपने की मिट्टी लेने गई लुठियाग गांव की तीन महिलाएं वापस नहीं लौटी, मलबे में दबकर हुई मौत

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: रुद्रप्रयाग जिले के लुठियाग गांव में एक दर्दनाक हादसा हुआ। यहां तीन महिलाओं की मिट्टी की ढांग में दबकर मौत हो गई। जबकि दो महिलाएं बाल-बाल बची, उन्होंने भागकर अपनी जान बचाई। शोर शराबे के बाद ग्रामीण मौके पर पहुंचे और फिर उन्होंने प्रशासन व पुलिस को हादसे की सूचना दी। इसके बाद डीडीआरएफ की टीम ने राहत व बचाव कार्य शुरू किया। तीनों महिलाओं के शव निकालने में टीम को मशक्कत करनी पड़ी और तीन घंटे बाद उन्हें सफलता मिली। इस घटना के बाद लुठियाग गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी हैं।

पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार जखोली विकासखंड के लुठियाग गांव की पांच महिलाएं गुरुवार को गांव के पास ही लगभग आधा किमी दूर घर की लिपाई के लिए मिट्टी लेने गई थी। तीन महिलाएं ढांग के अंदर से मिट्टी निकाल रही थीं, जबकि दो महिलाएं ढांग के बाहर खड़ी थीं। महिलाएं खुदाई कर रही थी कि अचानक ऊपर से पहाड़ी दरक गई और तीन महिलाएं मलबे में दब गईं। जो दो महिलाएं बाहर खड़ी थी, उनके ऊपर भी पहाड़ी गिर रही थी लेकिन वह वक्त रहते वहां से निकल गई।

यह भी पढ़ें 👉  केदारनाथ की पहाड़ियों में आया एविलांच, वीडियो देखें

सूचना मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंचे तथा मिट्टी हटाने में जुट गए। मृतकों की पहचान 40 वर्षीय आशा देवी, 52 वर्षीय माला देवी और 48 वर्षीय सोना देवी के रूप में हुई है। वहीं एसडीएम जखोली परमानंद ने बताया कि तीनों शव निकाल दिए हैं। महिलाएं रहने वाली रुद्रप्रयाग जिले की थी लेकिन घटना टिहरी जिले में हुई। ऐसे प्रशासन द्वारा दोनों जगहों की टीमों ( राजस्व) की मौजूदगी में शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेज गया।

Join-WhatsApp-Group
To Top