Ad
Dehradun News

कैंपटी फॉल में नहाते हुए डूबा पर्यटक, पुलिस की चेतावनी को नहीं करें नजरअंदाज

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

देहरादून: राज्य में बारिश लगातार तबाही मचा रही है। नैनीताल समेत कई जिलों में नेशनल हाइवे बंद हैं। प्रशासन और पुलिस ने बारिश में लोगों से पर्वतीय इलाकों में यात्रा नहीं करने को कहा है। हालांकि पर्यटक चेतावनी को नजरअंदाज कर रहे हैं और इस वजह से काफी नुकसान भी हो रहा है। एक मामला मसूरी से सामने आया है। कैंपटी फॉल में नहाते हुए पर्यटक की मौत हो गई। मृतक की पहचान अरविंद (35) निवासी हीरापुर जिला बुलंदशहर उत्तर प्रदेश के रूप में हुई है। स्थानीय लोगों ने पुलिस को युवक के डूबने की सूचना दी थी।

पुलिस ने झील के अंदर पत्थरों में फंसे युवक के शव को बाहर निकाला। पर्यटक अपने 6 दोस्तों के साथ घूमने आया था। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। साथ ही परिजनों को भी सूचना दे दी गई है। इसके अलावा पुलिस नीरज कुमार, कल्याण सिंह, अजय कुमार, महेश चंद, जितेन्द्र सिंह, सोनू से भी पूछताछ कर रही है। थानाध्यक्ष कैंपटी नवीन जुराल ने घटना की जानकारी दी है। उन्होंने कहा अरविंद अपने दोस्तों के साथ नहा रहा था। इसी दौरान वह मुख्य झील के नीचे दूसरी बड़ी झील के पास पहुंच गया और डूब गया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। पुलिस इस केस के हर एंकल में जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पाकिस्तानी महिला एजेंट के हनीट्रैप में फंसा सेना का अकाउंटेंट गिरफ्तार

बता दें कि कुमाऊं के साथ गढ़वाल में भी बारिश काफी नुकसान पहुंचा रही है। बदरीनाथ और गंगोत्री मार्ग पर लगातार हो रहे भूस्खलन और सड़क टूटने की घटनाओं से प्रशासन ने पर्यटकों के लिए अलर्ट जारी किया है। इसके बावजूद ऋषिकेश से सटे पर्वतीय क्षेत्रों की ओर बड़ी संख्या में पर्यटक रुख कर रहे हैं। भूस्खलन या सड़क टूटने के बाद पर्यटक कई घंटों तक मुख्य और आंतरिक मार्गों पर फंस रहे हैं। जगह जगह पर रेस्क्यू टीम को तैनात किया गया है। सोमवार को पिथौरागढ़ में बादल फटने के बाद कई शवों को बरामद किया गया है।

Join-WhatsApp-Group
To Top