Champawat News

उत्तराखंड में आंधी ने उजाड़ दिए दो परिवार, भारी पेड़ गिरने से दो लोगों की मौत, छह घायल


Ad
Ad
Ad
Ad

टनकपुर: आंधी तूफान आने से गुरुवार की रात कुमाऊं के कई क्षेत्रों में नुकसान होने की खबर सामने आई है। चंपावत जिले के टनकपुर में बीती शाम आंधी के चलते पेड़ नीचे गिर गया। जिसके नीचे दबकर एक श्रद्धालु समेत दो लोगों की मौत हो गई। बता दें कि घायलों को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी लाया गया है।

एसपी देवेंद्र पींचा ने जानकारी दी और बताया कि गुरुवार की शाम को मौसम बिगड़ने के बाद तेज हवा और आंधी चली। जिसकी वजह से रेलवे मार्ग पर पाकर का बहुत भारी पेड़ अचानक जमींदोज हो गया। इसी दौरान पेड़ के नीचे से ई-रिक्शा और कुछ लोग निकल रहे थे, जो पेड़ के नीचे आ गए। एक ढाबा भी नीचे आ गया।

यह भी पढ़ें 👉  बदल रहा है उत्तराखंड, आंगनवाड़ी बहनों को मिला तीलू रौतेली पुरस्कार

मौके पर चीख पुकार मची तो सूचना के बाद सीओ अविनाश वर्मा, कोतवाल हरपाल सिंह के नेतृत्व में मौके पर पुलिस, एसडीआरएफ और अग्निशमन दस्ते की टीम भी आ गई। जिसके बाद पेड़ को कटकर रेस्क्यू अभियान चलाया गया। डेढ़ घंटे के बाद आठ लोगों को निकाला गया। जिनमें से पूर्णागिरी मंदिर जा रहे एक समेत दो लोगों की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड निवासी विनीत चौड़ाकोटी हुए शहीद, 8 कुमाऊं रेजिमेंट में तैनात थे

प्रभारी एमएस डॉ. वीके जोशी ने बताया कि 17 वर्षीय मोहित कश्यप पुत्र वेद प्रकाश, निवासी संजयनगर बरेली और 60 वर्षीय मोहम्मद उमर पुत्र छिद्दा, निवासी न्यूरिया जिला पीलीभीत की मौत हो गई। बता दें कि इस हादसे के बाद रेलवे मार्ग पर एक घंटे तक आवाजाही भी प्रभावित रही। साथ ही बिजली पर भी असर पड़ा।

Join-WhatsApp-Group
To Top