Dehradun News

उज्जवल डोभाल ने बढ़ाया देवभूमि का मान, CDS परीक्षा में टॉप-10 में पाया स्थान


दून के उज्जवल डोभाल ने बढ़ाया देवभूमि का मान, CDS परीक्षा में टॉप-10 में पाया स्थान

देहरादून: प्रदेश में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। देश की हर बड़ी से बड़ी परीक्षा में टॉप की रैंकिंग में उत्तराखंड के युवा का नाम ना हो, ऐसा कम ही होता है। इस बार देहरादून के उज्जवल डोभाल ने सीडीएस 2020 (द्वितीय) परीक्षा से पूरे उत्तराखंड को गर्व महसूस कराया है। उज्जवल डोभाल ने इस परीक्षा में रैंकिंग की टॉप टेन सूची में स्थान प्राप्त किया है।

Ad

बता दें कि संघ लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित सम्मिलित रक्षा अकादमी यानी सीडीएस 2020 (द्वितीय) की परीक्षा को पास करना भी अपने आप में एक बहुत बड़ी बात होती है। वहीं, उज्जवल डोभाल ने टॉप-10 में जगह बनाई है। लिखित परीक्षा परिणाम और साक्षात्कार (एसएसबी) के बाद तैयार अंतिम चयन सूची में उज्जवल की नौंवी रैंक है। बेटे की इस उपलब्धि से ना सिर्फ परिवारजनों में खुशी का माहौल है बल्कि पूरे क्षेत्र में जश्न मनाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में 31 जनवरी से खुलेंगे कक्षा 10वीं से लेकर 12वीं तक के स्कूल, आदेश जारी

देहरादून के सरस्वती सोनी मार्ग (लक्ष्मण चौक) निवासी उज्जवल डोभाल को भारतीय सैन्य अकादमी (आईएमए) में प्रवेश मिला है। यहीं से उज्जवल बतौर जेंटलमैन कैडेट सैन्य प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे। जिसके बाद यहां से पास आउट होकर सैन्य अफसर बनने का सपना पूरा करेंगे। पेशे से पत्रकार पिता और राकेश डोभाल व गृहणी माता अंजू डोभाल की खुशियों का कोई ठिकाना नहीं है।

यह भी पढ़ें 👉  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर, नैनीताल समेत 15 गेस्ट हाउस की बुकिंग में मिलेगी 75 फीसदी छूट, शर्तें लागू

माता पिता के अलावा उज्जवल के घर में उसके बड़े भाई उदित डोभाल हैं। जो कि वर्तमान में अस्ट्रेलिया में बिजनेस मैनेजर हैं। उज्जवल ने 12वीं की परीक्षा वर्ष 2017 में सेंट जोजफ एकेडमी से उर्तीण की। फिर दिल्ली विश्वविद्यालय में कंप्यूटर साइंस (ऑनर्स) में प्रवेश लिया। डिग्री पूरी होने के बाद विवि में ही कानून की पढ़ाई भी शुरू की।

यह भी पढ़ें 👉  अब होगा घमासान...कांग्रेस से नाराज संध्या डालाकोटी ने लालकुआं से निर्दलीय ठोकी चुनावी ताल

पढ़ाई में हमेशा से अव्वल रहे उज्जवल को बचपन से ही फौज की वर्दी पहनने का शौक था। इसलिए स्नातक के तुरंत बाद उज्जवल ने मन बना लिया था। फिर क्या था उज्जवल ने मेहनत की और नवंबर 2020 का सीडीएस की लिखित परीक्षा दी। जिसमें उसे सफलता मिली है। परिजनों के मुताबिक उज्जवल पढ़ाई के साथ बेडमिंटन का कुशल खिलाड़ी, तैराक व संगीतज भी है। एनसीसी में भी उसने सी सर्टिफिकट प्राप्त किया हुआ है।

To Top