Pithoragarh News

पिथौरागढ़: देर रात पोल्ट्री फार्म में घुस गया गुलदार, 1500 से अधिक मुर्गियों को मार डाला

पिथौरागढ़: देर रात पोल्ट्री फार्म में घुस गया गुलदार, 1500 से अधिक मुर्गियों को मार डाला

पिथौरागढ़: जिले के कुछ इलाकों में गुलदार का आतंक कम होने का नाम नहीं ले रहा है। बकरी, पालतू कुत्तों को शिकार बनाने के बाद अब खौफनाक गुलदार ने पोल्ट्री फार्म में घुस कर आतंक मचाया है। लोन लेकर शुरू किए पोल्ट्री फार्म को तहस नहस करने के साथ गुलदार ने 1500 से अधिक मुर्गियों को मार दिया।

पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से 38 किमी दूरी पर स्थित राड़ीखूटी क्षेत्र के मटियाल तोक में हड़कंप मच गया है। दरअसल बीती देर रात को एक सक्रिय गुलदार ने 1500 से अधिक मुर्गियों को गुलदार ने मार डाला। कई मुर्गियां खा गया और 105 को घायल कर छोड़ गया। फार्म मालिक की रोजी रोटी पर भी बड़ा संकट आ गया है।

बता दें कि ग्राम निवासी मुकेश कुमार ने स्वरोजगार योजना के तहत सवा दो लाख का ऋण और कुछ अपनी जमा पूंजी लगाकर पोल्ट्री फार्म का कारोबार शुरू किया था। मगर गुलदार ने एक ही रात में सब खत्म कर दिया। मुकेश कुमार ने बताया कि फार्म गांव से कुछ दूरी पर है। कर्मचारियों की निगरानी भी हमेशा रहती है। ये चार कर्मचारी फार्म से लगे भवन में रहते हैं।

हुआ ये कि बीती रात में कर्मचारियों को मुर्गियों के फड़फड़ाने की आवाज सुनाई दी। चूंकि मौसम खराब था इसलिए उन्हें लगा हवा रोकने के लिए लगाई गई पन्नियों की आवाज होगी। काफी देर तक आवाज आते रही तो एक कर्मचारी कमरे से बाहर आया। उसके देखा कि गुलदार मुर्गियों को खा रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  पोस्ट ऑफिस में बंपर नौकरियां, आवेदन की तिथि बढ़ाई गई

जिसके बाद कर्मचारी ने शोर मचाकर अन्य साथियों को जगाया। चारों कर्मचारियों ने बाड़े के पास शोर मचाया तब गुलदार ने बाड़ा छोड़ा। ग्रामीणों के मुताबिक गुलदार ग्राम सभा के अंतर्गत आने वाले गांवों से आए दिन बकरी और पालतू कुत्तों को उठा ले जा रहा है। गांवों के लोगों में दहशत का माहौल है। बता दें कि पीड़ित मुकेश कुमार ने घटना की सूचना वन विभाग को दे दी है।

हल्द्वानी लाइव डॉट कॉम उत्तराखंड का तेजी से बढ़ता हुआ न्यूज पोर्टल है। पोर्टल पर देवभूमि से जुड़ी तमाम बड़ी गतिविधियां हम आपके साथ साझा करते हैं। हल्द्वानी लाइव की टीम राज्य के युवाओं से काफी प्रोत्साहित रहती है और उनकी कामयाबी लोगों के सामने लाने की कोशिश करती है। अपनी इसी सोच के चलते पोर्टल ने अपनी खास जगह देवभूमि के पाठकों के बीच बनाई है।

© 2021 Haldwani Live Media House

To Top