कोरोना की तोड़नी है चैन, उत्तराखंड में लॉकडाउन को लेकर आज हो सकता है फैसला

देहरादून: राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के लेकर तीरथ सरकार बड़ा फैसला ले सकती है। बुधवार को एक बैठक होनी है और कहा जा रहा है सरकार लॉकडाउन को लेकर घोषणा कर सकती है। केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से कहा है कि वह 10 फीसदी से अधिक संक्रमण दर वाले जिलों में लॉकडाउन लगा सकती है। प्रदेश में अधिकतर जिलों में संक्रमण दर 10 फीसदी से अधिक है। राज्य में कोरोना CURFEW लागू जरूर है लेकिन कोरोना वायरस के मामले कम नहीं हो रहे हैं। हालांकि ठीक होने वालों की संख्या पहले से बेहतर हुई है।

उत्तराखंड के कुछ मंत्रियों ने लॉकडाउन का स्वागत किया है। बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों ने पैनिक बटन भी दबाया हुआ है और इससे स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों पर भी असर पड़ रहा है। बता दें कि पिछले कैबिनेट बैठक में भी मंत्रियों की और से लॉकडाउन की पैरवी की गई थी। मुख्यमंत्री ने उस समय कोविड कर्फ्यू पर भरोसा जताया था लेकिन अब हालात खराब होते जा रहे हैं। शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल के मुताबिक बुधवार को इस मामले को लेकर बैठक बुलाई गई है। बैठक में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और अन्य मंत्री भी शामिल होंगे। प्रदेश की स्थिति को देखते हुए फैसला किया जाएगा। वही राज्य में कई संगठनों ने भी कोरोना वायरस की चैन को तोड़ने के लिए 15 दिन का पूर्ण लॉकडाउन लगाने की मांग की है।

मंगलवार को 7028 लोग कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं, जबकि 5696 लोगों ने कोरोना वायरस को हराया। अब उत्तराखंड में 140184 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। वहीं राज्य में 56627 एक्टिव के बचे हुए हैं। बीते 24 घंटे में अल्मोड़ा में 1, बागेश्वर में 42, चमोली में 51, चंपावत में 12, देहरादून में 1772, हरिद्वार में 855, नैनीताल में 866, पौड़ी में 176, पिथौरागढ़ में 72, रुद्रप्रयाग में 66, टिहरी में 253, उधमसिंहनगर में 1374, उत्तरकाशी में 156

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *