Pauri News

उत्तराखंड:दुगड्डा ब्लॉक के गांव में कई बकरियों की अज्ञात कारणों से मौत,पशुपालकों में हड़कंप


उत्तराखंड: दुगड्डा ब्लॉक के गांव में कई बकरियों की अज्ञात कारणों से मौत,पशुपालकों में मचा हड़कंप

देहरादून: एक तरफ इंसानों के बीच कोरोना का कहर थम नहीं रहा। दूसरी तरफ पिछले साल से अब तक कई बार विभिन्न पशुओं की मौत ने और डर फैलाया है। पक्षियों की मौतों के बाद बकरियों की मौत का मामला सामने आया है। यहां एक छोटे से गांव धरगांव में अज्ञात बीमारी के कारण एक महीने में कई बकरियां मौत के घाट उतर चुकी हैं। अब प्रधान ने जिलाधिकारी से गुहार लगाई है।

दुगड्डा ब्लॉक के ग्राम पंचायत चार के गांव धरगांव से यह मामला सामने आया है। ग्राम प्रधान वसीम अकरम ने बताया कि गांव में अबतक 15-20 बकरियां अज्ञात बीमारी के कारण मर चुकी हैं। सोमवार को पशुपालक सैय्यद हुसैन को 6 बकरियां मर गई हैं। बाकी के पशुपालकों की भी बकरियां बीमार हैं। इसलिए चिंता बनी हुई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड की शान है ऋषभ...WTC में एक हज़ार रन पूरे करने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बने पंत

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: बेटी की शादी के दिन कोरोना ने छीन ली पिता की सांसें, मचा कोहराम

यह भी पढ़ें: सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज ने दिए निर्देश, ड्रोन के माध्यम पता लगाया जाएगा नदियों का बहाव

उन्होंने पशुपालन विभाग को आड़े हाथों लिए। ग्राम प्रधान ने बताया कि विभाग को सूचित करने के बावजूद कोई संज्ञान नहीं लिया गया। इसके अलावा वे बताते हैं कि ग्रामीण लगातार पशुपालन विभाग दुगड्डा और पौखाल के पशुपालन कर्मियों और प्रभारी चिकित्साधिकारी को फोन करते हैं लेकिन फोन नहीं उठता ही नहीं है।

यह भी पढ़ें 👉  शिक्षा विभाग ने अगले आदेश तक उत्तराखंड में बंद किए सभी स्कूल,कोरोना का खतरा बढ़ रहा है

अब ग्राम प्रधान वसीम अकरम ने जिलाधिकारी को ज्ञापन भेजकर गांव में पशुपालन विभाग की टीम भेजने की मांग की। जिले के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. एसके बर्त्वाल ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है। बुधवार को विभागीय टीम गांव भेजी जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  अच्छी खबर...काठगोदाम में जल्द शुरू होगा बिजली से चलनी वाली ट्रेनों का संचालन

यह भी पढ़ें: बाबा रामदेव का विवादित बयान,गिरफ्तार तो किसी का बाप भी नहीं करा सकता

यह भी पढ़ें: वैक्सीन की उम्मीद में बैठी उत्तराखंड सरकार लगा बड़ा झटका,ग्लोबल टेंडर में किसी ने नहीं लिया भाग

यह भी पढ़ें: भारत सरकार के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचा WhatsApp, कहा संविधान के खिलाफ हैं नए नियम

नैनीताल जिले में शुरू हुई कोविड की तीसरी लहर की तैयारी,बच्चों के लिए DM ने बनाया प्लान

To Top